आशा कर्मचारी यूनियन ने मुख्यमंत्री को संबोधित भेजा ज्ञापन

संवाददाता अरुण त्रिपाठी:- आशा संगिनी और आशा क्रोना से बचाव हेतु सुविधा उपलब्ध कराने की मांग की है।
आशा संगिनी और आशा को प्रति माह 10 हजार रूपये महामारी भत्ता दिया जाए। पर्याप्त मात्रा में मास्क सैनिटाइजर दस्ताना बॉडी कवर दिया जाए। आशा और आशा संगिनी इस समय प्रतिदिन गाँवों में भ्रमण कर रही हैं, जबकि अप्रैल माह में इन्हें मात्र 3हजार रूपये दिया गया है। अप्रैल 201 9से घोषित 750 रूपये मासिक प्रोत्साहन राशि हर माह दिया जाए। आशा से रिपोर्ट ऑनलाइन माँगा जाता है जबकि कई वर्ष पूर्व आशा को साधारण मोबाइल सेट दिया गया था, इन्हें स्मार्टा फोन दिया जाए क्षेत्र भ्रमण के लिए स्कूटी दी जाए!
संगिनी से आख्या प्राप्ति के उपरांत ही किसी आशा को निष्कासित किया जाए। संगिनी की रिपोर्ट के आधार पर ही आशा को भुगतान किया जाए, मनमानी भुगतान न किया जाए। कई वर्ष पूर्व आशा को छाता, टार्च आदि दिया गया था, जो खराब हो गया है, इसे पुनः दिया जाए। कोरोना के कारण टीकाकरण, वीएचएनडी आदि की बैठक नहीं हो पा रही है आशा को भुगतान कम दिया जा रहा है,जबकि इनसे अतिरिक्त कार्य लिया जा रहा है। श्यामबरन पाण्डेय, मण्डल संयोजक, आशा कर्मचारी यूनियन, देवी पाटन मण्डल आदि ने मांग न्याय उचित बताया।

Leave a Reply