कौशाम्बी:कड़ा धाम पुलिस की लापरवाही आई सामने दूसरे प्रदेश से आये 43 लोगो में से 18 लोग ही करते है कोरनटाईन बाकि 25 लोग गायब दिन में एकांतवास, रात में घर में ही रहते है बाहर से आये लोग

कौशाम्बी विकास खण्ड कड़ा के दौलतपुर कसार में प्राथमिक विद्यालय में बनाए अस्थाई शेल्टर होम में बाहर से आए कुछ लोगों को यहां जबरन गांव से लाकर प्राइमरी विद्यालय में बैठाया गया। दूसरे कमरे में टेंट के गद्दे बिछे हैं, लेकिन वह खाली हैं। कुछ ऐसा ही नजारा क्षेत्र के दूसरी ग्राम पंचायतों में बनाए शेल्टर होम का भी है। । वहां रास्ते में खड़े ग्रामीण से बाहर से आए प्राइमरी स्कूल में रह रहे लोगों की जानकारी ली। तो लोगो ने बताया कि करीब 43 ऐसे ग्रामीण यहां दूसरे जिलों और राज्यों से आए हैं। एक हालनुमा कमरे में गद्दों पर 10 युवक पास-पास बैठे नजर आए, जबकि इसी से सटे दूसरे कमरे में गद्दे बिछे थे, जहां कोई नहीं था। पूछने पर बताया कि वह लोग बेहद गरीब है,जबकि 25 अन्य लोग पैसे वाले लोग है जिनको यहाँ रहने में काफी तकनीफ होती है और उनको रहने में यहाँ कंफलटेबल नही है ,इस लिये पुलिस व जिम्मेंदार लोग उन्हे छूट दे रखे है,जिससे वह लोग आज तक यहा दिखाई नही दिये। जबकि उनको बार-बार पुलिस के द्वारा हिदायत दी जा रही है। कि अगर तुम लोग यहां से भागोगे तो एफआईआर दर्ज करा दी जायेगी। जिम्मेंदारो की इस लापरवाही से गैर प्रान्तों से आये 25 लोग शेल्टर होम प्राइमरी स्कूल दौलतपुर से गायब है। जिसकी जानकारी वह के लोगो के द्वारा कन्ट्रोंल रूम व थाना एंव चैकी पुलिस को दी गई,लेकिन किसी भी प्रकार कार्रवाई न होने से प्रान्तों से आये 25 लोग अपने घरो में रह रहे है। जिनके आइसोलेट न होने के चलते उनके द्वारा संक्रमण की आंशका से ग्रामीण भयभीत है। ग्रामीणो ने जिलाधिकारी से कडी कार्रवाई कराये जाने की मांग किया है।

ब्यूरो चीफ आर पी यादव यूपी फाइट टाइम्स कौशाम्बी