घर में रहकर करें लॉकडाउन पालन : हिलाल बदायूंनी

सोशल नेटवर्किंग से जुड़े सभी जनपदवासियों व देश के अन्य नागरिकों से की अपील , कविता के माध्यम से भी प्रधानमंत्री के निर्देश के पालन हेतु किया जागरूक

वज़ीरगंज(बदायूं) :- एक तरफ जहां सोशल नेटवर्किंग से कभी कभी भ्रामक सूचनाएं व वाद विवाद एवं दुरुपयोग भी हो जाता है वहीं कस्बा निवासी मशहूर शायर हिलाल बदायूँनी ने लॉकडाउन एवं घर में रहकर सोशल नेटवर्किंग को करोना की जागरूकता के लिए विशेष माध्यम बनाया है । बेसिक शिक्षा विभाग बदायूँ के ब्लॉक वज़ीरगंज में कार्यरत शिक्षक एवं शायर हिलाल बदायूँनी ने इस मौके पर सोशल नेटवर्क के सहारे जनपद ही नहीं देश की जनता को करोना से लड़ने के लिए जागरूक पहल का आग़ाज़ मार्च 22 मार्च से ही शुरू कर दिया है । शायर हिलाल बदायूँनी की कविताओं एवं विचारों को जनता में और प्रसारित करने हेतु देश के कई नामी यूट्यूब चेनल्स ने अपने चैनल व सोशल पेज पर अपलोड करके हिलाल बदायूँनी की जागरूकता मुहिम को और आगे बढ़ा दिया है । शायर हिलाल बदायूँनी ने अपील की है कि यदि आप अपने लोगों के करीब रहना चाहते हैं तो इस वक़्त थोड़ी सी दूरी बर्दाश्त कर लीजिए । अगर आपने इस वक़्त आपने लोगों के करीब आने की कोशिश की तो हो सकता है भविष्य में आप उन्हें या खुद को हमेशा के लिए दूर कर बैठे । करोना एक महामारी है जिसमें शासन व प्रशासन के निर्देशों का पालन करना और देश हित में सहयोग करना हर भारतवासी का फर्ज है । हिलाल बदायूँनी ने मुस्लिमों से अपील करते हुए भी कहा कि मुस्लिम समुदाय घरों में रहकर इबादत करें और आने वाली शबे बारात पर रात्रि में किसी प्रकार का आवागमन न करें और घर में रहकर एकांत में दुआ करे कि आने वाले रमज़ान से पहले ये मुसीबत ये बीमारी हमारे मुल्क से दूर हो जाये । शायर हिलाल बदायूँनी ने करोना बचाव एवं लॉकडाउन की महत्त्वता को चार पंक्तियां सुनाकर शासन व प्रशासन की अपील का समर्थन करते हुए कहा ।
हर बुराई छोड़ दीजे , छोड़िए हिर्सो हवस ।
काम ऐसे कीजिये भागे करोना वायरस ।
आज शासन और प्रशासन का यही कहना है कि
आप सड़कों पर न घूमें , घर में ही रहे सुरक्षित रहें।