चंडीगढ़:हरियाणा रोडवेज की 900 से ज्यादा बसों में यूपी में अपने घर पहुंचे हजारों मजदूर

दिल्ली बॉर्डर पर खड़े उत्तर प्रदेश के हजारों लोगों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा हरियाणा रोडवेज से मदद मांगी गई। यूपी सरकार की इस मांग पर हरियाणा रोडवेज के अधिकारियों ने तुरंत एक्शन लिया और करीब 9:30 बजे चालको को एवं परिचालकों को सूचित कर दिया गया था। चालक तुरंत ही बसे लेकर दिल्ली के आनंद विहार नोएडा एवं गाजियाबाद बॉर्डर पर पहुंच गए और लखनऊ कानपुर आदि की सवारी उठा कर तुरंत ही रवाना हुए। यूपी सरकार की ओर से रोडवेज कर्मियों के खाने ठहरने एवं डीजल की व्यवस्था भी कराई गई। इसके साथ ही चालको एवं परिचालकों को हजार रुपए इंसेंटिव भी देने का प्रावधान किया। हरियाणा रोडवेज की तरफ से करनाल पानीपत सोनीपत रेवाड़ी नूह जींद झज्जर रोहतक पलवल गुड़गांव फरीदाबाद और दिल्ली डिपो की बसों को इस काम के लिए लगाया गया। यूपी सरकार द्वारा यह भी दावा किया गया था कि वह यात्रियों को दिल्ली से उनके घर तक पहुंचाने का कोई किराया नहीं लेंगे लेकिन यूपी रोडवेज के कंडक्टर ने यात्रियों से किराया भी लिया एवं बदसलूकी भी की।

चंडीगढ़ से केशव महेश्वरी की रिपोर्ट