नौतनवा:बांदा में फंसे 29 मजदूर सांसद पंकज चौधरी के पहल पर पहुंचे सम्पतिहा

नौतनवा/महराजगंज। मंगलवार की सुबह 29 मजदूर बांदा से संपतिहा पहुचे। इन मजदूरों का सांसद प्रतिनिधि बब्लू सिंह ने स्वागत किया और इन्हें होम क्वारंटीन मे रहने की हिदायत देकर इनके घर भेज दिया गया। सभी लोग मुंबई में रहकर मजदूरी का कार्य करते थे। मजदूरों के अनुसार लाॅकडाउन के कारण वहां जब उनकी स्थिति बेहाल होने लगी तो वे एक मैजिक तय करके नौतनवा के लिए चल दिए। अगले दिन जब वे मध्य प्रदेश के बार्डर पर पहुचे तो वहां उन्हें पकड़ लिया गया और 27 घन्टे रोक दिया गया। जाँच हुई जाँच मे रिपोर्ट निगेटिव आने पर छोड़ दिया गया। वहा से 1मई को वे बांदा पहुचे तो पुलिस ने गाडी सीज कर दी और एक विद्यालय पर रोक दिया गया। वे लोग नहाए धोएं और दो दिन के भूखे होने के कारण खाने के लिए कुछ माँगा तो सिर्फ चावल मिला जिसका खिचड़ी बनाकर खाए रात मे वहाँ के यसडीएम आए तो उन्हें जी भरकर गालियाँ दी। भूख प्यास से बेहाल उन लोगों के पास अपने गाव के पड़ोस गाव के सांसद पंकज चौधरी के प्रतिनिधि बब्लू सिंह का नम्बर था उनको फोन मिलाया और आप बीती बताया और सांसद जी से मदद के लिए गुहार लगाई। सांसद जी ने जानकारी होने पर बांदा के सांसद आर के सिंह पटेल और वहा के

जिलाधिकारी से बात किया और दो घंटे के अन्दर उनके पास भोजन नाश्ता और पानी लिये पहुचे प्रशासन ने उनकी मेडिकल चेकअप कराया और लंच पैकेट के साथ बस से नौतनवा के लिए रवाना कर दिया। मजदूरों ने सांसद पंकज चौधरी का गुणगान किया। मंगलवार को जब सांसद प्रतिनिधि बब्लू सिंह ने इन सभी को रिसीव किया और इनके गांव तक पहुंचाया तो ये सभी भावुक हो गये। ये सभी कुरहवा, नईकोट तथा इसके आस-पास के गावों के रहने वाले हैं ये सभी पंकज चौधरी को कोटि-कोटि धन्यवाद दे रहे थे। सांसद प्रतिनिधि बब्लू सिंह ने बताया कि सभी 29 मजदूरों को उनके घर भिजवा दिया गया है इनके पास दो स्टेट कि जाँच रिपोर्ट है जो कि निगेटिव है। इनके रिपोर्ट कि यसडीएम फरेन्दा ने जाँच कि है फिर भी इन्हे 14 दिन तक होम क्वारंटीन मे रहने का निर्देश दिया गया है साथ ही ये हिदायत भी दी गई है कि अगर किसी से मिलने जुलने गये या बाहर निकले जाँच मे पकडे गए तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

रिपोर्ट- मुराद अली (ब्यूरो चीफ महाराजगंज)