नौतनवा। साहब:मैं जमाती नही,भ्रामक सूचना देकर मुझे जमाती बताया गया-मो0 रईश कुरैशी

साहब:मैं जमाती नही,भ्रामक सूचना देकर मुझे जमाती बताया गया। ऐसा कहना है रईश कुरैशी का

नौतनवा/महराजगंज। नगर पालिका परिषद नौतनवा वार्ड संख्या 17 राहुल नगर के रहने वाले मोहम्मद रईस कुरैशी की पत्नी गर्भवती हैं। जिसका विगत कई दिनों से नौतनवा मे इलाज चल रहा था। उसे रक्तस्राव कि दिक्कत थी। 12 अप्रैल को दिक्कत बढने पर वह नौतनवा से एम्बुलेंस के माध्यम से गोरखपुर सदर महिला अस्पताल ले गया। जहाँ उसकी पत्नी को भर्ती कराया। वहां अल्ट्रासाउंड के लिए कहा गया। लेकिन रक्तस्राव बन्द न होने पर उसे सोमवार को बीआरडी रेफर कर दिया गया। जहां वह अल्ट्रासाउंड के लिए गुहार लगा रहा था। लेकिन अल्ट्रासाउंड ना होने पर वह प्राइवेट चिकित्सक के वहां चला आया। लेकिन अस्पताल के ही कुछ शुभचिंतकों द्वारा फोन पर भ्रामक सूचना देकर उनकी पत्नी के कोरोना संदिग्ध होने और भाग जाने की सूचना पर वह स्वयं बीआरडी चौकी इन्चार्ज से फोन पर संपर्क कर वहां पहुंच गया। और अपनी पत्नी को एडमिट कराया। जहाँ उसका सैम्पल जांच के लिये भेजा गया है। मंगलवार को मोहम्म्द रईस कुरैशी ने यूपी फाइट टाइम्स न्यूज के संवाददाता से बताया। कि वह जमाती नही है। और वह किछौछा शरीफ से मुरीद है। वहीं नौतनवा कस्बे के उसके जानने वालो काफी लोगो ने बताया। कि वह तो बरेलवी हैं। और वह बरेलवी मुसलमान है। और जमाती होने का सवाल ही नहीं उठता। नगर पालिका परिषद नौतनवा अध्यक्ष गुड्डू खान सहित नगर के तमाम गणमान्य लोगों ने बताया। कि नौतनवा कस्बे के कुछ लोग उसे हाटस्पाट से आया हुआ बता रहे हैं। पर सच्चाई यह है कि नौतनवा कस्बे में कोई हाटस्पाट है ही नहीं।

रिपोर्ट-मुराद अली (तहसील प्रभारी नौतनवा)