You are currently viewing प्रयागराज:प्रभावित क्षेत्रों में आपूर्ति घर पर ही सुनिश्चित कराई जाए-मण्डलायुक्त

प्रयागराज से अर्जुन सिंह के साथ प्रयाग पांडेय की रिपोर्ट

मंडलायुक्त प्रयागराज श्री आर. रमेश कुमार, पुलिस महानिरीक्षक श्री के पी सिंह, प्रयागराज विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री टी के शिबू, नगर आयुक्त श्री रवि रंजन एवं अपर आयुक्त प्रशासन श्री भगवान शरण सहित सभी संबंधित अधिकारियों ने कोरोना प्रभावित क्षेत्र शंकर घाट (शिवकुटी) का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मंडलायुक्त ने अधिकारियों से वहां की भौगोलिक स्थिति, निवासित परिवारों, वहां की जनसंख्या, साफ सफाई की स्थिति, सैनिटाइजेशन कार्य की प्रगति, एसेंशियल सर्विसेज जैसे दवाई/खाद्य सामग्री आदि की आपूर्ति आदि के संबंध में विस्तृत रूप से जानकारी ली तथा उपस्थित अधिकारियों को उपरोक्त के संबंध में व्यापक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पूरे प्रभावित क्षेत्र में सभी व्यवस्थाएं उच्च कोटि की होनी चाहिए जिससे किसी व्यक्ति को बाहर निकलने की आवश्यकता ना पडे। सभी लोगों को दवाई, खाद्य सामग्री व अन्य आवश्यक सामानों की आपूर्ति उनके घर पर ही सुनिश्चित कराई जाए। पूरे क्षेत्र में सड़कों, गलियों, मकानों के बाहर तथा घरों के अंदर समुचित सैनिटाइजेशन सुनिश्चित कराया जाए। पुलिस महानिरीक्षक ने पूर्ण सैनिटाइजेशन के लिए कार्य का विभाजन करते हुए कहा कि सड़कों पर अग्निशमन विभाग द्वारा, गलियों में नगर निगम द्वारा तथा घरों में स्वास्थ्य विभाग द्वारा सैनिटाइजेशन का कार्य समन्वय बनाकर कराया जाए।
मंडलायुक्त ने कहा कि संपूर्ण सैनिटाइजेशन का कार्य पूरी गति के साथ करते हुए इसे अधिकतम 3 दिन में समाप्त कर दिया जाए। जितने भी लोग संदेह के घेरे में हैं उन सभी की तत्काल जांच कराई जाए तथा क्षेत्र में लॉक डाउन का कड़ाई एवं दृढ़ता के साथ पालन कराया जाए। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन की अवधि के दौरान प्रशासनिक तंत्र आम जनमानस की जरूरतों का भी ध्यान रखें और इस बात का भी ख्याल रखें की आम जनमानस को चिकित्सा सुविधा आदि ससमय उपलब्ध हो सके । पुलिस महानिरीक्षक ने कहा कि क्षेत्र में तैनात पुलिस विभाग के समस्त अधिकारी व कर्मचारी जनसेवा, समाज सेवा व देश सेवा के मूल जज्बे के साथ सभी से लाॅक डाउन का शत प्रतिशत अनुपालन कराए जाने के साथ ही लोगों को उनकी जरूरत के अनुसार हर संभव सहायता भी उपलब्ध कराएं। उन्होंने कहा कि संकट की इस घड़ी में हमारी जिम्मेदारियां और अधिक महत्वपूर्ण हो जाती हैं जिनका हमें पूर्ण मनोयोग और उच्च मनोबल के साथ निर्वहन करते हुए देश सेवा का अनुपम उदाहरण पेश करना है।
तत्पश्चात मण्डलायुक्त महोदय, पुलिस महानिरीक्षक प्रयागराज के साथ जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक व अन्य अधिकारियों के साथ शंकरगढ़ ब्लाक में पाए गए कोरोना पाजिटिव व्यक्तियों के गांव कपारी का निरीक्षण करने पहुंचे जो कि हाॅटस्पाट स्थल घोषित हो चुका है। मण्डलायुक्त ने ग्रामसभा में जाकर सेनेटाइजेशन फागिंग साफ-सफाई एवं राशन वितरण इत्यादि के बारे में जानकारी सम्बन्धित अधिकारियों से ली।
जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि लाॅकडाउन का कड़ाई से पालन होना चाहिए एवं कोई भी व्यक्ति घरो से बाहर न निकले। जरूरत की सभी वस्तुएं लोगों के घरों तक पहंुचाने के भी निर्देश दिए। पूरी तरह से सील किए गए कपारी गांव के लोगो से उन्होंने आह्वाहन किया कि घबराने की जरूरत नहीं है। प्रशासन हर स्तर पर आपकी हर सम्भव मदद एवं सुरक्षा के प्रति मुस्तैद है।
पुलिस महानिरीक्षक ने वहां ड्यूटी पर लगाए गए पुलिस विभाग के सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को लाॅकडाउन का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश दिए एवं सील किए गए कपारी गांव में विशेष चैकसी बरतते हुए कहा कि कोई बाहरी व्यक्ति न तो अंदर जाए और ना ही कोई अंदर से बाहर जायेगा। वापस लौटते समय जिलाधिकारी ने नैनी पुल के पास बेवजह घूम रहे लागो को रोककर उनसे टहलने का कारण पूछा एवं उचित जवाब न देने पर कड़ी फटकार लगाते हुए लाॅकडाउन का पालन करने की हिदायत देते हुए कोरोना वायरस से सतर्क रहने का आग्रह किया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मचारियों को लाॅकडाउन का सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिए।
निरीक्षण के दौरान अपर आयुक्त प्रथम-भगवान शरण, मुख्य चिकित्सा अधिकारी-श्री जी0एस0 वाजपेयी, एडीएम प्रशासन-श्री वी0एस0 दूबे, सिटी मजिस्टेªट-श्री रजनीश मिश्र सहित सम्बन्धित अधिकारीगण मौजूद रहे।