You are currently viewing फतेहपुर:आपसी रंजिश के चलते पत्रकार पर हुआ जानलेवा हमला ,धाता थाना में पीड़ित पत्रकार द्वारा दर्ज कराई गई रिपोर्ट, चारों आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर पुलिस कर रही तलाश

मामला जनपद फतेहपुर के धाता थाना अंतर्गत कारी कान धाता सिराथू रोड संगम गेस्ट हाउस के पास अमरनाथ पुत्र उदय प्रताप के घर के सामने खड़ा था सुबह के लगभग 8:00 बजे हुए थे ठीक उसी समय दो मोटरसाइकिल से चार लोग गुफरान पुत्र जहूर व कलीम पुत्र स्वर्गीय सलीम निवासी धाता कैथाना मोहल्ला व महफूज पुत्र जुम्मन व मिराज पुत्र अज्ञात निवासी मछरिया या थाना नौबस्ता जनपद कानपुर बिना मास्क लगाए आए और पत्रकार कलीम को गाली गलौज करने लगे ,
पत्रकार के मना करने पर पत्रकार को जान से मारने की नियत से लोहे के रॉड और डंडों से चारों हमलावरों ने हमला कर दिया,
पत्रकार अपनी जान बचाने के लिए अमरनाथ के घर में घुस गया, लेकिन इन हमलावरों ने पत्रकार का पीछा नहीं छोड़ा ,और अमरनाथ के घर में घुसकर पत्रकार को तबीयत से पीटा हमलावरों ने पत्रकार कलीम का सर फोड़ कर लहूलुहान कर दिया ,

पत्रकार द्वारा शोर मचाने पर चारों हमलावर जान से मारने की धमकी देते हुए घटनास्थल से फरार हो गए

आपको बता दें कि इन हमलावरों ने पुरानी रंजिश के चलते पत्रकार पर जानलेवा हमला किया और पत्रकार को मारकर लहूलुहान कर दिया जहां एक तरफ वर्तमान समय में सारी दुनिया कोरोना जैसी खतरनाक महामारी से जूझ रही है ,संपूर्ण भारत लॉक डाउन की स्थिति से गुजर रहा है,
ऐसी स्थिति में महफूज पुत्र जुम्मन और मिराज पुत्र अज्ञात कानपुर से बाइक द्वारा धाता पहुंचे और धाता के दो लड़के जो इस घटना में शामिल हैं उनसे मिलकर घटना को अंजाम दिया, और साथ ही साथ धारा 144 का उल्लंघन भी किया

आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें कि पत्रकार कलीम का इलाज सीएससी धाता में कराया गया, इस हमले में पत्रकार को गहरी चोटें आई हैं पत्रकार द्वारा इन चारों हमलावरों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता 1860 की धारा 188 ,269, 270, 307 ,452 ,323, 504, 506, और महामारी अधिनियम की धारा 1897/3 की धाराओं में धाता थाना में मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है चारों हमलावरों की तलाश जारी है
इस घटना से सभी पत्रकार तिलमिलाए हुए हैं और इन चारों अपराधियों को कानूनन सजा दिलाने में सब एक साथ खड़े हैं इसमें कोई संदेह नहीं है

फतेहपुर से विशेष संवाददाता राम मणि पांडे की खास रिपोर्ट