घरेलू लाइट कनेक्शनों में आए दिन 11000 करंट उतरने से हो रही मौतें

इस समय धाता ब्लाक के आसपास कई गांव में बिजली का संकट गहराया हुआ है जिसमें पर्याप्त बिजली जो कि 18 से 22 घंटे शासन की तरफ से कही गई है ऐसी अवस्था में जर्जर तारों का हवाला देते हुए विद्युत कर्मचारी सिर्फ 4 से6 घंटे बिजली देते हैं जिससे पूरे क्षेत्र में बिजली संकट पूर्ण रूप से गहराया हुआ है

बताते चलें कि 18 तारीख को ग्राम सभा बेलावा में 440 बोल्ट के करंट पर 11000 का करंट उतरने से अजय सिंह पुत्र रामस्वरूप की मृत्यु हो गई जोकि 440 वोल्ट में 11000 करंट उतरने से घर के पंखे लाइट कूलर फ्रिज टीवी आदि जलने लगे तभी अजय ने दौड़कर टीवी की स्विच बंद करने की कोशिश की जिससे उसमें चिपक कर उसकी मृत्यु हो गई
इसी तरह ग्राम सभा कल्याणपुर अतरौली के मजरे हरदवा में भी एक हफ्ते पहले 11000 का करंट उतरने से गांव के कई लोगों के पंखे टीवी और फ्री जल गए और बड़ा हादसा होने से बाल-बाल बचे
इसी क्रम में आगे चले तो सोनारी ग्राम सभा में भी एक 25 वर्षीय युवती की करंट लगने से मृत्यु हो गई इससे पता चलता है कि क्षेत्र की जर्जर तारों बिजली की अच्छी व्यवस्था ना होने से आए दिन हादसे होते रहते हैं जिसका खामियाजा क्षेत्रीय जनता को भुगतना पड़ता है।

फतेहपुर से विशेष संवाददाता राम मणि पांडे की खास रिपोर्ट जनहित में जारी