कवियत्री अखिलेश तिवारी डाली को मिला साहित्य भूषण सम्मान

कवियत्री अखिलेश तिवारी डाली को मिला साहित्य भूषण सम्मान

रिपोर्ट प्रमोद यादव सुल्तानपुर यूपी फाइट टाइम्स
सुल्तानपुर साहित्य की दुनिया में कवित्री अखिलेश तिवारी डाली ने जो शोहरत हासिल की उससे बल्दीराय क्षेत्र का ही नहीं वर न सुल्तानपुर जिले का नाम रोशन हुआ है अपनी मधुर स्वर एवं शालीनता के कारण डाली ने साहित्य समाज में ऊंचा स्थान प्राप्त किया है कवियत्री अखिलेश तिवारी डाली द्वारा साहित्य सृजन एवं साहित्यिक कार्यों के प्रति अपने को समर्पित कर कीर्तिमान स्थापित किया तो प्रदेश की कई सामाजिक संस्था कवित्री के उत्कृष्ट प्रतिभा से प्रभावित होकर उन्हें सम्मानित किया
लखीमपुर खीरी की संस्था अखिल विश्व काव्य रंगोली एवं काव्य रंगोली हिंदी साहित्यिक पत्रिका द्वारा कवित्री डाली को साहित्य भूषण सम्मान तथा सरवन कुमार सम्मान से नवाजा गया साहित्य की दुनिया में कवियत्री डाली विभिन्न संस्थाओं से कई बार सम्मानित हो चुकी है अपने त्याग के बल पर साहित्य के संदेश को अपने जीवन में उतारने वाली डाली सच्ची कवित्री हैं
उन्होंने लखीमपुर खीरी से प्रकाशित पत्रिका के शीर्षक मेरी मां के पन्नों में मां के भाव पर वर्णन किया तो मां के प्रति कवित्री का विचार स्मरण भाव एवं साहित्य से उन्हें मातृत्व ममता सम्मान से भी नवाजा गया
मूल रूप से विकासखंड बल्दीराय की ग्राम पंचायत बी ही निद्दूरा निवासिनी कवियत्री अखिलेश तिवारी डाली ने साहित्य की दुनिया में जो कदम उठाया है वास्तव में वह सराहनीय है