यकीन करो जयगुरुदेव नाम ख़ुदा, भगवान, गॉड का ही नाम है -बाबा उमाकान्त जी महाराज

जयगुरुदेव
नई दिल्ली
19.10.2019

यकीन करो जयगुरुदेव नाम ख़ुदा, भगवान, गॉड का ही नाम है -बाबा उमाकान्त जी महाराज

किसी भी जाति मजहब के मानने वाले सबके लिये ऐलान, मुसीबत के समय जय गुरु देव नाम बोल करके मदद ले सकते हो

कोरोना जैसी भयंकर महामारी से बचने के उपाय बताने वाले वर्तमान के पूरे सन्त सतगुरु बाबा उमाकान्त जी महाराज ने 19 अक्टूबर 2019 को रामलीला मैदान, नई दिल्ली से जयगुरुदेव नाम की महिमा समझाते हुए भक्तों से आह्वान किया कि ये जयगुरुदेव नाम जो हमारे गुरु महाराज ने जगाया ये ख़ुदा, भगवान, गॉड का नाम है।

जैसे त्रेता में राम नाम में शक्ति, द्वापर में कृष्ण नाम में शक्ति और इस कलयुग में जयगुरुदेव नाम में शक्ति हैं

रामचंद्र राजा दशरथ के पुत्र का नाम था जिनको राम भगवान कहा गया। उन्होंने राम नाम को जगाया था। जब जगाये हुए नाम को बोलते हैं तो उससे लाभ होता है, बचत होती है।
विभीषण के कुटिया के ऊपर राम नाम लिखा था। पूरी लंका जल गयी थी और उनकी कुटिया बच गई थी। राम नाम में इतना प्रभाव था। दूसरा युग त्रेता आया। उसमें कृष्ण नाम का प्रभाव बढ़ा। कृष्ण-कृष्ण जिसने जहां पर पुकारा, कृष्ण खड़े हुए मिले। द्रोपति को उबारा। त्रेता और द्वापर के पहले सतयुग था। सतयुग में गुरु की पूजा होती थी। उसी गुरु नाम को हमारे गुरु महाराज ने जगाया। गुरु के पहले जय लगाया। जय मतलब जयमान जो हमेशा रहे, देव माने देने वाला होता है।

जयगुरुदेव नाम की खूब लोगों ने सफलतापूर्वक परीक्षा लिया

जय गुरु देव नाम गुरु महाराज ने जगाया और जगा करके कहना शुरू किया कि यह जय गुरु देव नाम भगवान, परमात्मा, खुदा, गॉड का नाम है। यकीन करो, विश्वास करो। लेकिन जल्दी लोगों को विश्वास न हो तो गुरु महाराज ने कहा कि इम्तिहान ले कर देखो, परीक्षा लेकर देखो।
जय गुरु देव नाम खुदा, गॉड, भगवान का ही है। जब मुसीबत आयी, लोगों ने जय गुरु देव नाम बोला, चाहे जिस जाति-मजहब का हो सबको फायदा हुआ। सबको जब फायदा होता है तो आदमी मान ही लेता है। प्रैक्टिकल करके देखा। नदी में गए नहाने के लिए और डूबने लग गए। कोई सहारा नहीं जयगुरुदेव जयगुरुदेव जयगुरुदेव बोले, लहर आई और ले जाकर किनारे लगा दिया, जान बच गई।

मरते समय बड़ी पीड़ा, दर्द हुआ। जयगुरुदेव नाम कान में बोले तो आंखें खोला बताया एक सफेद वेष में फकीर आ गये और यमदूतों को दूर भगाया

महाराज जी ने बताया कि मरते समय जब पीड़ा हुई, दर्द हुआ, जयगुरुदेव नाम जब कान में बोले, जयगुरुदेव नाम प्रभु का बोलो, जयगुरुदेव नाम प्रभु का बोलो। मरने पर जो पीड़ा होती है, यमराज के दूत जब आते हैं, आखिरी वक्त पर पापी कुकर्मी लोगों को मारने लगते हैं, उस समय कोई सहारा देने वाला नहीं होता है। परिवार के लोग खड़े रहते हैं, वहां कोई जात-बिरादरी का वाद नहीं चलता है। उसके आगे तो सरेंडर करना ही पड़ता है।
गुरु महाराज ने हमारे बताया था कि तुम यह बोल दो कि जयगुरुदेव नाम प्रभु का या जयगुरुदेव नाम खुदा का नाम बोलो या जयगुरुदेव नाम गॉड का नाम बोलो, कुछ भी बोलो जयगुरुदेव नाम कान में पडना चाहिए। तो आंखे खोला और बताया कुछ लोगों ये बताया एक सफेद पोश गुरु महाराज जिनको उसने नहीं देखा था, उन्होंने यमराज के दूतों से मुझे बचा लिया। अब हम उनके साथ जा रहे है। किसी ने कहा वह सफेद कपड़ा पहने हुए गुरुमहाराज जी को पहले देखे हुए था, साफ-साफ बताया बाबा जयगुरुदेव आ गए। किसी ने कुछ नहीं बोला, नहीं बताया, उसको राहत मिल गई, शांति मिल गयी। आंखे खोल दिया बोला आराम से जा रहा हूँ, कोई दिक्कत नहीं, कोई तकलीफ नहीं। फायदा सबको हुआ।

कोई भी सदाचारी शाकाहारी नशामुक्त व्यक्ति मुसीबत के समय जयगुरुदेव नाम बोलकर मदद ले सकता है

आप प्रेमी जो इतने लोग यहां पर हो, आप भी मुसीबत के समय, तकलीफ के समय आप किसी भी जाति-मजहब के मानने वाले हो सबके लिए ऐलान कर रहा हूं कि आप किसी भी समय मुसीबत में जयगुरुदेव नाम बोल कर के फायदा उठा लेना और आप ही नहीं कोई भी सदाचारी शाकाहारी नशा मुक्त व्यक्ति मुसीबत के समय जयगुरुदेव नाम बोल कर के मदद ले सकता है।

।।जयगुरुदेव।।
परम सन्त बाबा उमाकान्त जी महाराज आश्रम उज्जैन (म.प्र) भारत