You are currently viewing पात्रो को नही मिला आवास, बरसात में छप्पर-कच्चे मकान में रहने को मजबूर

पात्रो को नही मिला आवास, बरसात में छप्पर-कच्चे मकान में रहने को मजबूर

शक्तिमान सोनकर

गोंडा, प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए भारत सरकार तथा प्रदेश सरकार हर गरीब को पक्का मकान देने की कोशिश कर रही है।लेकिन ग्राम प्रधान अपने लोगो के साथ पक्षताप करने पर तुले हुए हैं। इसी तरह एक मामला प्रकाश में आया है।
विकास खण्ड पण्डरी कृपाल क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत उकरा का है। जहां के निवासनी रीमा पत्नी निब्बू लाल जो कि बहुत गरीब है। लेकिन पक्का घर मिलने से वंचित हैं। प्रार्थी के रहने के लिए कच्चा मकान है। जो बरसात की वजह से गिर भी सकता है।
प्रार्थनी तिरपाल तानकर अपना गुजारा कर रही है। ऐसे स्थिति में उसके परिवार को काफी कठिनाई व असुरक्षित है।