कुछ एक नजर इधर भी

कुछ एक नजर इधर भी

मुन्ना दास(बहुजन चिंतक)

फतेहपुर जनपद के खागा का बैरागी पुरवा

खागा कस्बा के अंतर्गत आने वाला पुरवा जो आज से 10 साल पहले खागा टाउन से जुड़ा

इस पुरवा के बारे में कुछ साझा करते है

1- इस पुरवा में आज लगभग 35 साल से पवार हाउस है उसी पवार हाउस से एक हरिजन बस्ती के लिए रोड गयी जो कि चलने के लायक नही गन्दगी का अंबार है ऐसा लगता है सालों से नाली या चकरोड की साफ सफाई नही हूवी यहाँ पर पानी का जमाव बना रहता है

2- इसी पुरवा में बाबा साहब की प्रतिमा और चबूतरा है जो कि आज से लगभग 20 वर्ष होने को है लेकिन वहां पर सफाई कर्मी का कभी आना जाना नही होता

3- इस पुरवा में हरिजन की संख्या ज्यादा है जो कि शासन प्रशासन का ध्यान हरिजन बस्ती में ज्यादा होना चाहिए लेकिन इस पुरवा में ऐसा नही दिखा ये यहां के स्थानी लोगो का कहना है

4- टाउन एरिया का हिस्सा होने के बाउजूद यहां के हरिजन बस्ती को वो सुविधा नही मिलती जो टाउन में रहने वालों को मिलती है यहां के लोगो का कहना है कि महामारी होते हुवे जल्दी कभी दवाइयों का छिड़काव नही होता है न ही वो सुविधा मिलती है जो टाउन में रहने वालों को मिलती है