You are currently viewing केंद्र सरकार के साथ ही भाजपा किसान मोर्चा का प्रत्येक कार्यकर्ता भी किसान कल्याण के प्रति समर्पित : कैलाश चौधरी

केंद्र सरकार के साथ ही भाजपा किसान मोर्चा का प्रत्येक कार्यकर्ता भी किसान कल्याण के प्रति समर्पित : कैलाश चौधरी

भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा की नई दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक में कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार ने बीते सात वर्षों में खेती-किसानी के क्षेत्र में इतना काम किया है, जितना पहले किसी भी सरकार ने नहीं किया

दिल्ली/जयपुर/बाड़मेर-जैसलमेर

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा की नई दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक में मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजकुमार चाहर एवं अन्य पदाधिकारियों के साथ भाग लिया और देश के कृषि और किसान से जुड़े विषयों पर विस्तृत संवाद किया। इस दौरान कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने
‘उन्नत खेती-समृद्ध किसान’ की दिशा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की ओर से उठाए गए कदमों और कल्याणकारी योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। कैलाश चौधरी ने कहा कि केंद्र सरकार के साथ ही भाजपा किसान मोर्चा का प्रत्येक कार्यकर्ता भी खेती को उन्नत तकनीक से जोड़ने और किसानों की आय बढ़ाने के लक्ष्य के प्रति पूर्ण रूप से समर्पित होकर कार्य कर रहा है।

बैठक को सम्बोधित करते हुए केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि मोदी सरकार किसानों की आय को दोगुना करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। पिछले सात वर्षों में केंद्र सरकार ने कृषि क्षेत्र को बदलने के लिए कई पहल की हैं। उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से बेहतर सिंचाई साधनों से लेकर अच्छी कृषि तकनीक, ज्यादा कृषि ऋण और बाजार से लेकर उचित फसल बीमा तक, मृदा स्वास्थ्य पर ध्यान केंद्रित करने के लिए बिचौलियों को समाप्त करने के लिए, प्रयास शामिल हैं। कैलाश चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार ने बीते सात वर्षों में खेती-किसानी के क्षेत्र में इतना काम किया है, जितना पहले किसी भी सरकार ने नहीं किया। प्रधानमंत्री मोदी की सोच रही है कि बीज से लेकर बाजार तक किसानों को वो हर सुविधा मिले जिससे फसल का उत्पादन बढ़े और किसानों की आय बढ़े। बीते सात वर्षों से की जा रही कोशिशों का नतीजा भी अब सामने आने लगा है।

कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर फंड से छोटे और मझौले किसानों को ज्यादा फायदा : कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने किसान और कृषि सेक्टर के विकास के लिए फूड प्रोसेसिंग को बढ़ावा देने पर भी जोर दिया है। सरकार ने इसके लिए देश की 1000 और मंडियों को ई-नाम से जोड़ने का फैसला किया गया है। इन कदमों से सरकार के विजन का पता चलता है। सरकार का मुख्य फोकस किसान, कृषि और गांवों के विकास पर है। छोटे किसानों का विकास ही सही मायने में ग्रामीण भारत का विकास है। कैलाश चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में तेजी से हो रहे कृषि सुधार आज दूसरे क्षेत्र के लिए प्रतिस्पर्धा का विषय बन गया है। अब सरकार का ध्यान देश के छोटे एवं मंझोले किसानों पर है। इसके लिए एक लाख करोड़ रुपये के कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर फंड से देश के 85 प्रतिशत से ज्यादा छोटे व मझौले किसानों तक पूरा फायदा पहुंचना जरूरी है।