You are currently viewing गहलोत सरकार का आधे से ज्यादा कार्यकाल कांग्रेसी नेताओं की आपसी कलह में बीता : केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी

गहलोत सरकार का आधे से ज्यादा कार्यकाल कांग्रेसी नेताओं की आपसी कलह में बीता : केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी

भरतपुर जिले के दौरे पर रहे केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने भाजपा के राष्ट्रव्यापी अभियान “सेवा ही संगठन” के तहत पार्टी के विभिन्न कार्यक्रमों में की शिरकत, केंद्र सरकार की किसान हितैषी नीतियों एवं प्रदेश की कांग्रेस सरकार की नाकामियों के संदर्भ में किया संवाद

भरतपुर (राजस्थान)

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने बुधवार को अलवर जिले का दौरा करने के बाद रात्रि विश्राम के लिए भरतपुर सर्किट हाउस में ठहरे। गुरुवार को केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी भाजपा के राष्ट्रव्यापी अभियान “सेवा ही संगठन” के तहत भरतपुर जिले के दौरे पर रहे। इस दौरान कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने भाजपा संगठन एवं आमजन से जुड़े विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लिया। इस दौरान सर्किट हाउस भरतपुर में भाजपा किसान मोर्चा के पदाधिकारियों एवं नगर निगम पार्षदों ने स्वागत किया। सर्किट हाउस में भरतपुर सांसद श्रीमती रंजीता कोली एवं महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष श्रीमती हंसिका गुर्जर ने शिष्टाचार भेंट की।
प्रदेश मेें बढ़ते अपराधों के मुद्दे पर केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने राजस्थान की गहलोत सरकार पर जमकर निशाना साधा। केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने प्रदेश में हाल ही आपराधिक घटनाओं में हुई बढ़ोतरी के मुद्दे पर गहलोत सरकार को घेरा।

गुरुवार सुबह कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने सर्किट हाउस भरतपुर में पत्रकार वार्ता के दौरान पत्रकार बंधुओं से मोदी सरकार के सफलतम 7 वर्षों के कार्यकाल की जनहितैषी नीतियों एवं राजस्थान में कांग्रेस सरकार के कुशासन के संदर्भ में संवाद किया। इसके बाद भारतीय जनता पार्टी भरतपुर जिले की बैठक में भाग लेकर संगठनात्मक विषयों एवं आगामी कार्य योजना के संदर्भ में उपस्थित पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं से संवाद किया और बैठक से पूर्व वृक्षारोपण किया। इस दौरान कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि यह बड़बोली कांग्रेस की गहलोत सरकार बड़े बड़े वादे करके सत्ता में तो आई लेकिन मूलभूत सुविधाएं भी प्रदेश की जनता को मुहैया नहीं करा पा रही है। बिजली और पानी की दरों में अप्रत्याशित बढ़ोतरी करने के बावजूद भी आमजन को इनकी आपूर्ति में समस्या का सामना करना पड़ रहा है। प्रदेश की कांग्रेस सरकार हर मुद्दे पर विफल साबित रही है, जिसका खामियाजा जनता को भुगतना पड़ रहा है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच चल रही खींचतान और कांग्रेस की आपसी कलह पर तंज कसते हुए कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि समस्या कांग्रेस नेताओं की है और सरकार भी कांग्रेस की है, जिसका समाधान कांग्रेस को ही करना है. लेकिन इन सबके बीच केवल राजस्थान की जनता परेशान हो रही है। कैलाश चौधरी ने कहा कि कांग्रेस सरकार और पार्टी की आपसी लड़ाई का खामियाजा राजस्थान की जनता को भुगतना पड़ रहा है। कानून व्यवस्था पूरी तरह बिगड़ चुकी है और विकास के काम ठप पड़े हैं। आमजन परेशान है। केंद्रीय राज्यमंत्री चौधरी ने कहा कि कांग्रेस का आधे से ज्यादा कार्यकाल तो इनके नेताओं की आपसी कलह में ही निकल गया है। ऐसी स्थिति में जनता परेशान है और सरकार भ्रष्टाचार का खेल सरकार में व्यस्त है।

गहलोत सरकार को माफ नहीं करेगी जनता : केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने बताया कि राज्य की गहलोत सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर जो वैट लागू कर रखा है, उससे राजस्थान के पड़ोसी राज्य हरियाणा में पेट्रोल-डीजल की कीमतों में काफी अंतर है, इसको कम करके आमजन को राहत देनी चाहिए। कैलाश चौधरी ने आरोप लगाया कि देश के अन्य राज्यों की तुलना में राजस्थान में वेट एवं सेस सबसे अधिक वसूला जा रहा है। उन्होंने मांग किया कि राजस्थान सरकार को पेट्रोल एवं डीजल पर वेट एवं सेस हरियाणा की भाजपा सरकार के बराबर कर आम जनता को राहत देनी चाहिए। बिजली के बढ़ते बिलों पर नाराजगी जताते हुए कैलाश चौधरी ने कहा कि राजस्थान में बिजली का बिल लगातार करंट मार रहा है, जिससे आमजन त्रस्त है। कांग्रेस सरकार ने बिजली दरों में बढ़ोतरी नहीं करने का वादा किया था, लेकिन सरकार अपने वादे से मुकर रही है। वादाखिलाफी करने वाली इस सरकार को जनता माफ नहीं करेगी।