You are currently viewing कलेक्ट्रेट सभागार, लखनऊ में जिलाधिकारी, लखनऊ की अध्यक्षता में आयोजित “जिला वृक्षारोपण समिति”, “जिला गंगा समिति की बैठक हुई संपन्न

कलेक्ट्रेट सभागार, लखनऊ में जिलाधिकारी, लखनऊ की अध्यक्षता में आयोजित “जिला वृक्षारोपण समिति”, “जिला गंगा समिति की बैठक हुई संपन्न

लखनऊ।आगामी 30 करोड़ वृक्षारोपण के लखनऊ जनपद की समीक्षा जिलाधिकारी, लखनऊ की अध्यक्षता में बुधवार को प्रातः 11:30 बजे कलेक्ट्रेट सभागार में की गई।

  उक्त बैठक में जनपद के 28 विभागों के विभागाध्यक्ष,वन विभाग, ग्राम्य विकास विभाग, राजस्व विभाग, पंचायती राज विभाग, पर्यावरण विभाग, लोक निर्माण विभाग आदि उपस्थित रहे। जनपद का कुल लक्ष्य 20 लाख वृक्षारोपण समस्त विभागों द्वारा व 11 लाख वृक्षारोपण वन विभाग अनुमोदित कार्ययोजना के अनुसार कराये जाएंगे। इसमें समस्त विभागों की कार्ययोजना, गढ्ढा खुदान, इण्डेंड

जनरेशन व पौध ढुलान की व्यक्तिगत समीक्षा की गई। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश द्वारा व्हाट्सएप ग्रुप पर विभागवार आवंटित लक्ष्य के सापेक्ष दैनिक प्रगति अपलोड किये जाने के निर्देश दिये गये। बैठक का संचालन सदस्य सचिव/प्रभागीय वनाधिकारी, लखनऊ डा0 रवि कुमार सिंह द्वारा किया गया।

 समस्त विभागों को 01 जुलाई से 31 जुलाई 2021 के मध्य वृक्षारोपण व 04 जुलाई, 2021 को वृहद स्तर पर राज्य के 25 करोड़ वृक्षारोपण का लक्ष्य प्राप्त करने हेतु अपने विभागों की पूर्ति के निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिये गये

तथा जनपद के सभी विभागों को वन विभाग की नर्सरियों से तत्काल पौध उठान कराने के निर्देश दिये गए।

प्रभागीय वनाधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि जनपद में कोविड स्मृति वाटिका की स्थापना कुकरैल रेंज के सूगामऊ वन ब्लाक में की जा रही है जिसमें सभी जनसामान्य अपने स्वजनों की स्मृति में वृक्षारोपण कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त सूगामऊ वन ब्लाक कुकरैल में 10 हेक्टेयर वृहद क्षेत्र में कुल 11,000 वृक्षों का रोपण कर ऑक्सीजन वन की स्थापना वन विभाग द्वारा की जाएगी जिसमें औषधीय वृक्ष भी सम्मिलित हैं। जिलाधिकारी, लखनऊ द्वारा लखनऊ विकास प्राधिकरण को जनेश्वर मिश्र पार्क में एक वृहद वृक्षारोपण (कुल संख्या 31,000 पौध) किये जाने हेतु निर्देशित
किया गया।

 जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिए गये कि विगत वर्षों में वन विभाग द्वारा कुकरैल में तीन स्थलों पर तीन मॉडल "मियावाकी वृक्षारोपण कराये गये हैं जिसका अनुश्रवण करते हुए समस्त विभाग शहरी क्षेत्र में "मियावाको वृक्षारोपण

को प्रोत्साहित करें। उक्त कार्य के अनुश्रवण के लिए प्रभागीय वनाधिकारी कार्यालय में एक कमाण्ड सेन्टर की स्थापना की गई है। उक्त के अतिरिक्त जिलाधिकारी द्वारा जिला गंगा समिति की भी समीक्षा की गई।