You are currently viewing मनरेगा कर्मियों की समस्याओं का निस्तारण कराएं सरकार- अशोक

सिराथू ब्लॉक परिसर में मनरेगा कर्मियों ने खंड विकास अधिकारी को सौंपा ज्ञापन

उत्तर प्रदेश मनरेगा कर्मचारी महासंघ के तत्वाधान में आयोजित हुआ कार्यक्रम

कौशाम्बी। उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा जेम पोर्टल हुआ मैच कर्मचारी के नियुक्ति के बाद से मनरेगा कर्मचारियों में असंतोष है जिससे कर्मचारियों में असुरक्षा की भावना भी उपजी है। सरकार को इन बातों को ध्यान देते हुए तत्काल मनरेगा कर्मियों की समस्याओं का समाधान करना चाहिए। उक्त बातें एपीओ अशोक कुमार ने खंड विकास अधिकारी को 10 सूत्रीय ज्ञापन सौंपते हुए कही। बैठक की अध्यक्षता ब्लॉक अध्यक्ष रवेंद्र ने किया।

इस मौके पर बोलते हुए अशोक कुमार ने कहा कि सरकार मनरेगा कर्मचारियों की काम के प्रति निष्ठा और लगन को देखते हुए तत्काल उनकी मांगों को पूरा करना चाहिए सरकार ने पूर्व में वादा किया था कि वह मरने का कर्मियों को सम्मान सहित नौकरियों में समायोजित कर आएंगे लेकिन अभी तक ना तो समायोजन प्रज्ञा शुरू हुई ना ही मनरेगा कर्मियों के मानदेय में वृद्धि की गई जिससे कर्मियों में भारी आक्रोश है मनरेगा कर्मियों के 100 पर गए 10 सूत्रीय मांग पत्र में जेम पोर्टल नियुक्ति को रोके जाने, दिन दिवंगत मनरेगा कर्मियों के आश्रितों को उसके स्थान पर नौकरी दिए, जाने मेठ भारती रोके जाने, ईपीएफ कटौती के बाद भी खाते में पैसा नहीं जाने, मानदेय बृद्धि, कंप्यूटर योग्यता रखने वाले मनरेगा कर्मियों के समायोजन, के साथ मानव संपदा पोर्टल पर अंकित करते हुए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कर्मियों के भाती सेवा पुस्तिका जारी करने की मांग उठाते हुए ज्ञापन सौंपा। इस मौके पर प्रमुख रूप से चंद्रिका प्रसाद, सतीश कुमार, धर्मेंद्र, धीरेंद्र कुमार, धनराज यादव, जय लाल, अमित शुक्ला, सत्य प्रकाश पांडे सहित बड़ी संख्या में मनरेगा कर्मी मौजूद रहे।

मनरेगा कर्मियों की समस्याओं का निस्तारण कराएं सरकार- अशोक

सिराथू ब्लॉक परिसर में मनरेगा कर्मियों ने खंड विकास अधिकारी को सौंपा ज्ञापन

उत्तर प्रदेश मनरेगा कर्मचारी महासंघ के तत्वाधान में आयोजित हुआ कार्यक्रम

कौशाम्बी। उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा जेम पोर्टल हुआ मैच कर्मचारी के नियुक्ति के बाद से मनरेगा कर्मचारियों में असंतोष है जिससे कर्मचारियों में असुरक्षा की भावना भी उपजी है। सरकार को इन बातों को ध्यान देते हुए तत्काल मनरेगा कर्मियों की समस्याओं का समाधान करना चाहिए। उक्त बातें एपीओ अशोक कुमार ने खंड विकास अधिकारी को 10 सूत्रीय ज्ञापन सौंपते हुए कही। बैठक की अध्यक्षता ब्लॉक अध्यक्ष रवेंद्र ने किया।

इस मौके पर बोलते हुए अशोक कुमार ने कहा कि सरकार मनरेगा कर्मचारियों की काम के प्रति निष्ठा और लगन को देखते हुए तत्काल उनकी मांगों को पूरा करना चाहिए सरकार ने पूर्व में वादा किया था कि वह मरने का कर्मियों को सम्मान सहित नौकरियों में समायोजित कर आएंगे लेकिन अभी तक ना तो समायोजन प्रज्ञा शुरू हुई ना ही मनरेगा कर्मियों के मानदेय में वृद्धि की गई जिससे कर्मियों में भारी आक्रोश है मनरेगा कर्मियों के 100 पर गए 10 सूत्रीय मांग पत्र में जेम पोर्टल नियुक्ति को रोके जाने, दिन दिवंगत मनरेगा कर्मियों के आश्रितों को उसके स्थान पर नौकरी दिए, जाने मेठ भारती रोके जाने, ईपीएफ कटौती के बाद भी खाते में पैसा नहीं जाने, मानदेय बृद्धि, कंप्यूटर योग्यता रखने वाले मनरेगा कर्मियों के समायोजन, के साथ मानव संपदा पोर्टल पर अंकित करते हुए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कर्मियों के भाती सेवा पुस्तिका जारी करने की मांग उठाते हुए ज्ञापन सौंपा। इस मौके पर प्रमुख रूप से चंद्रिका प्रसाद, सतीश कुमार, धर्मेंद्र, धीरेंद्र कुमार, धनराज यादव, जय लाल, अमित शुक्ला, सत्य प्रकाश पांडे सहित बड़ी संख्या में मनरेगा कर्मी मौजूद रहे।