You are currently viewing बढ़ती महंगाई ने देश की जनता को भुखमरी के कगार पर धकेला- अरुण विद्यार्थी

बढ़ती महंगाई ने देश की जनता को भुखमरी के कगार पर धकेला- अरुण विद्यार्थी

महंगाई के विरोध में फ्रंटल संगठनों की अगुवाई में हुआ प्रदर्शन

सैकड़ों की संख्या में मौजूद कांग्रेसियों ने लगाए सरकार विरोधी नारे

कौशाम्बी। बढ़ती महंगाई ने देश के आर्थिक कमर को तोड़ने का काम किया है वही पेट्रोलियम पदार्थ व खाद्य पदार्थों की बढ़ी महंगाई ने आम लोगों को भुखमरी के कगार पर ढकेल दिया है। कांग्रेस पार्टी इसका पुरजोर विरोध करती है और सरकार से मांग करती है कि वह महंगाई पर अंकुश लगाने के लिए तत्काल कार्रवाई करें। उक्त बातें सोमवार को विरोध प्रदर्शन के दौरान बोलते हुए पार्टी के जिला अध्यक्ष अरुण विद्यार्थी ने कही। कार्यक्रम में बताओ मुख्य अतिथि प्रभारी प्रदेश सचिव रामकिशन पटेल मौजूद रहे। कांग्रेसियों ने पार्टी कार्यालय से मुख्यालय चौराहे होते हुए तहसील परिसर तक एक्का व बैलगाड़ी से प्रदर्शन किया। इस मौके पर कांग्रेसियों के हाथों में गैस सिलेंडर भी रहे कांग्रेसियों ने केंद्रीय सरकार को इस महंगाई के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए सरकार विरोधी नारे लगाए।

इस मौके पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि सरकार की गलत नीतियों के चलते आज देश की जनता त्राहि-त्राहि कर रही है सरकार तत्काल खाद्य पदार्थ और पेट्रोलियम के बड़े मूल्य को कम करें जिससे आम लोगों को राहत मिल सके। इस मौके पर बोलते हुए युवक कांग्रेस के जिला अध्यक्ष अंकुर शुक्ला ने कहा कि आज सरकार की नीतियों के चलते युवा रोजगार से वंचित है। छोटे-छोटे उद्योग धंधे बंद हो रहे हैं यही नहीं सरकारी नौकरियां कम हो रहे हैं जिसके लिए केंद्र व राज्य सरकार जिम्मेदार है। इस मौके पर बोलते हुए एनएसयूआई जिला अध्यक्ष अमित द्विवेदी आजाद ने कहा कि सरकार की नीतियों के चलते आज विद्यालय पूरी तरह बंद है जिससे छात्रों के भविष्य पर बुरा असर पड़ा है। आज छात्र तैयारी नहीं कर पा रहा है जिससे उसका भविष्य अंधेरे में जा रहा है। उन्होंने तत्काल शिक्षा के लिए व्यवस्था किए जाने और छात्रों को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराए जाने की बात कही। इस मौके पर मानवाधिकार कांग्रेस के जिलाध्यक्ष जितेंद्र शर्मा व अल्पसंख्यक कांग्रेस के जिला अध्यक्ष तमजीद ने भी बैठक को संबोधित किया। इस मौके पर प्रमुख रूप से तलत अजीम, आशीष कुमार मिश्रा पप्पू, वेद प्रकाश पांडे सत्यार्थी, रजनीश पांडे, शमीम आलम, शाहिद सिद्धकी, संस्कार पांडे, विनय पासी, नरेंद्र सिंह, विष्णु पांडे, मोहम्मद गुलाम, अश्वनी मिश्रा उर्फ मुकेश, भारत गौतम, इजहार अब्बास, प्यारे भाई, मथुरा दुबे, फैसल अली, मिसबाहउल ऐन, बरसाती लाल पंडा, असगर मदनी, विनोद चौधरी, विवेक मिश्रा माइकल, उदय यादव सहित सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस के सिपाही मौजूद रहे।