You are currently viewing हत्यारोपी पहलवान सुशील कुमार से रिश्तों पर गैंगस्टर लाॅरेंस विश्नोई का बड़ा खुलासा

हत्यारोपी पहलवान सुशील कुमार से रिश्तों पर गैंगस्टर लाॅरेंस विश्नोई का बड़ा खुलासा।

दिल्ली से बृजेश कुमार

दिल्ली:लॉरेंस विश्नोई ने पहलवान सुशील के साथ और काला जठेड़ी के साथ रिश्ते को कबूल किया है. उसने कहा कि काला भाई की दोस्ती सुशील से है। वह सुशील से काला के जरिये मिला था। वह उसे पहले से नहीं जानता था।

पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड में पहलवान सुशील कुमार की गिरफ्तारी के बाद गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई और काला जठेड़ी के नाम सुर्खियों में हैं। भारत के सबसे बड़े गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई ने पटियाला हाउस कोर्ट के बाहर मीडिया से एक्सक्लूसिव बात की। इस बातचीत में लॉरेंस ने पहलवान सुशील के साथ काला जठेड़ी और खुद के रिश्ते को कबूल किया है। उसने कहा कि काला भाई की दोस्ती सुशील से है। सुशील से मेरी जेल में मुलाकात हुई है।

लॉरेंस ने कहा कि सुशील से फोन पर उसकी बात होती थी। काले भाई से सुशील की दोस्ती है तो हमारी भी दोस्ती है। काला भाई जठेड़ी बड़ा भाई है हमारा। उसने कहा कि वह सुशील से काला के जरिये मिला था, वह उसे पहले से नहीं जानता था।

आप को बता दें कि सागर पहलवान हत्याकांड के बाद सुशील कुमार, काला जठेड़ी और लॉरेंस विश्नोई नैक्सस का नाम सामने आया था। मकोका केस व अन्य चार संगीन केसों में स्पेशल सेल दिल्ली पुलिस ने लाॅरेंस विश्नोई को गिरफ्तार किया है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल राजस्थान जेल में बंद काला जठेडी़ के क्राइम साथी लारेंस विश्नोई, सम्पत नेहरा, जग्गू, राजू को प्रोडक्शन वारंट के तहत दिल्ली लेकर आए थे। आज स्पेशल सेल ने रिमांड पूरी होने के बाद लाॅरेंस विश्नोई को पटियाला हाउस कोर्ट पेश किया था। फिलहाल लॉरेंस को दिल्ली की तिहाड़़ जेल में न्यायिक हिरासत मे भेज दिया गया है।

सागर हत्याकांड के बाद आरोप लगे थे कि सुशील के छत्रसाल स्टेडियम के अंदर बने सरकारी बंगले में लॉरेंस विश्नोई, काला जठेड़ी गैंग के बदमाश आते जाते थे। लॉरेंस विश्नोई के मकोका व अन्य केसों की पैरवी जाने माने अधिवक्ता विशाल चोपड़ा कर रहे हैं। हमारे संवाददाता ने अधिवक्ता विशाल चोपड़ा से पटियाला हाउस कोर्ट में लॉरेंस विश्नोई की पेशी के दौरान बात की। अधिवक्ता विशाल चोपड़ा के मुताबिक दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने लॉरेंस विश्नोई व उसके अन्य चार साथियों पर मकोका व अन्य संगीन धाराओं में पांच केसों में गिरफ्तारी की है। उन्होंने कहा कि मेरे क्लाइंट लारेंस विश्नोई पिछले तकरीबन सात साल से जेलों में बंद है इसलिए उस पर लगाए गए मकोका व अन्य सभी केस झूठे व बेबुनियाद है। उस पर लगाए गए मकोका व अन्य मामलों में पुलिस की तफ्तीश अभी शुरुआती स्टेज पर है, पुलिस की तफ्तीश पूरी होने पर ही हम पुलिस के आरोपों को कोर्ट में चुनौती देंगे। अभी इस मामले में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी।