You are currently viewing रेखा श्रीवास्तव मंडल प्रभारी का सहयोग रहा सराहनीय गर्भवती विक्षिप्त महिला ने दिया पुत्र का जन्म

रेखा श्रीवास्तव मंडल प्रभारी का सहयोग रहा सराहनीय गर्भवती विक्षिप्त महिला ने दिया पुत्र का जन्म

दिनाक 04/08/21

रिपोर्टिंग
विवेक श्रीवास्तव (रिंकू)
यूपी फाइट टाइम

गोंडा जनपद एक विक्षिप्त महिला प्रसव पीड़ा से बाबागंज बाजार में सड़क किनारे कहार रही थी तभी युवा संघ उद्यान सेवा समिति के संरक्षक संत छोटे बाबा ने संज्ञान में लेते हुए महिला की मदद के लिए आगे हाथ बढ़ाया l और अपने आश्रम में सहारा दिया जब यह सब बात मंडल प्रभारी रेखा श्रीवास्तव तक पहुंची तो उन्होंने सोनवर्षा आश्रम के संत छोटे बाबा से फोन से वार्तालाप करने के बाद विश्व हिंदू महासंघ के मातृशक्ति के मंडल प्रभारी ने अपनी गाड़ी से बेसहारा महिलाओं को जिला महिला अस्पताल में 29/07/2021 को भर्ती कराया महिला का इलाज के दौरान उसके स्वस्थ में सुधार हुआ और अस्पताल में उस महिला देखरेख के लिए साधना तिवारी अपना योगदान दे रही थी जो कि पेशे से आशा है और परसपुर के रहने वाली है इस स्थिति में महिला की मदद के लिए युवा उत्थान सेवा समिति व विश्व हिंदू महासंघ मंडल प्रभारी रेखा श्रीवास्तव के माध्यम से विक्षिप्त महिला के इलाज एवं अन्य सभी आवश्यकता वस्तु के लिए आर्थिक सहयोग प्रदान किया l समिति एवं विश्व हिंदू महासंघ मंडल प्रभारी रेखा श्रीवास्तव के अथक प्रयास से महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां आज विक्षेपित महिला ने दिनाक 03/08/21 को शाम 6.00 बजे को डॉक्टर द्वारा विश्व हिंदू महासंघ के मंडल प्रभारी मातृशक्ति रेखा श्रीवास्तव को फोन करके सूचना दी गई कि विक्षेपित महिला को ज्यादा तकलीफ है तथा खून की आवश्यकता है l मंडल प्रभारी मातृशक्ति अस्पताल पहुंचकर खून उपलब्ध कराया l तथा ऑपरेशन द्वारा एक सुंदर बच्चे का जन्म दिया l बच्चा और महिला दोनों स्वस्थ हैं l लोगों ने समित एवं विश्व हिंदू महासंघ मंडल प्रभारी रेखा श्रीवास्तव का सराहना करते हुए बधाई दिया l यूपी फाइट टाइम्स के संवाददाता से जब विश्व हिंदू महासंघ मातृ शक्ति मंडल प्रभारी रेखा श्रीवास्तव से बात हुई तो उन्होंने कहा जब मैं महिला अस्पताल पहुंची तो नर्स द्वारा बच्चे को जब गोद में दे दिया तो उसे लेकर मुझे अत्यंत खुशी हुई कि मैं दोनों की जिंदगी को सुरक्षित बचा पाई l आज हमारी इतनी मशक्कत व मेहनत के बाद मां और बच्चे दोनों स्वस्थ हैं l कि एक महिला होने के नाते मेरा फर्ज बनता है कि मैं अगर कोई बेसहारा महिला वह भी विक्षेपित हो तो पूरी मदद करनी चाहिए यही इंसानियत हैं l हमारा हमेशा प्रयास रहता है कि हम जिंदगी की जितनी भी मदद लोगों तथा बेसहारा महिलाओं व गरीब महिलाओं की कर सके उतनी करती रहो मुझे बड़ी खुशी मिलती है सब की सेवा करने के लिए ही में जन्मी हूं मैं जीवन भर सब की सेवा करती रहूंगी जब तक मैं जीवित हूं l भगवान ने मुझे इसीलिए भेजा है l