You are currently viewing नौतनवा/काकोरी की घटना ने आजादी के दीवानों में जोश व क्रांतिकारी जज्बा पैदा करने का कार्य किया-उपजिलाधिकारी

नौतनवा/काकोरी की घटना ने आजादी के दीवानों में जोश व क्रांतिकारी जज्बा पैदा करने का कार्य किया-उपजिलाधिकारी

महराजगंज/आकाश अग्रहरि

देश की आजादी के आंदोलन में लखनऊ की काकोरी घटना ने बड़ी भूमिका अदा की इस क्रांतिकारी घटना की 96वी वर्षगांठ पर आज पूरे प्रदेश में “आजादी के अमृत महोत्सव एवं चौरी-चौरा शताब्दी महोत्सव, देश के बीर शहीद सपूतों को नमन कर मनाया गया।
नौतनवा नगर पालिका अध्यक्ष गुड्डू खान ने नगर के शहीद स्मारक पर इस कार्यक्रम का आयोजन किया। कार्यक्रम का आगाज मुख्य अतिथि उपजिलाधिकारी नौतनवा
रामसजीवन मौर्य, शहीद पूरन बहादुर थापा के भाई अशोक थापा तथा अन्य अतिथियों द्वारा अमर ज्योति जलाने के साथ हुआ तत्त्पश्चात नगर के सपूत कारगिल शहीद पूरन बहादुर थापा की प्रतिमा पर माल्यार्पण व श्रद्धासुमन अर्पित किया गया।कार्यक्रम की समाप्ति पर देश के स्वतंत्रता संग्राम में अपना योगदान देने वाले सेनानियों व बलिदानी शहीदों के स्वजन को सम्मानित किया गया।कार्यक्रम का सफल संचालन राजेश व्वायड ने किया।
मुख्य अतिथि ने अपने सबोधन मे कहा कि “काकोरी की घटना ने आजादी के दीवानों में जोश व क्रांतिकारी जज्बा पैदा करने का कार्य किया।
क्षेत्राधिकारी नौतनवा कोमल प्रसाद मिश्र
ने कहा कि “काकोरी की घटना ने अंग्रेजो को काफी परेशान किया और यह साबित किया कि क्रांतिकारी उनसे लोहा लेने के लिए हर तरीके अपना सकते हैं।
पालिका अध्यक्ष ने कहा कि “काकोरी कांड के लिए जिन 10 क्रांतिकारियों को याद किया जाता हैं उनमें से इस कांड के लिए कुछ को बाद में फांसी तक दी गयी उसके बाद भी अंग्रेज हिंदुस्तानी क्रांतिकारियों के दिलो से आजादी की ज्वाला बुझा नही पाए।
अधिशासी अधिकारी बीरेन्द्र कुमार राव ने बताया कि “आज के युवाओं को देश की आजादी के दीवानों से सिख लेने की जरूरत हैं
इस अवसर पर तहसीलदार नौ