You are currently viewing पीएम किसान सम्मान निधि योजना से छोटे और सीमांत किसानों को मिल रहा है संबल : केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी

पीएम किसान सम्मान निधि योजना से छोटे और सीमांत किसानों को मिल रहा है संबल : केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी

पीएम-किसान योजना के 9.75 करोड़ से अधिक लाभार्थियों के बैंक खातों में 9वीं किश्त जारी होने के बाद केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि उन्नत कृषि और समृद्ध किसान केंद्र सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता

दिल्ली/जयपुर/बाड़मेर-जैसलमेर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) योजना के तहत वित्तीय लाभ की 9वीं किश्त जारी कर दी। नई दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुए इस कार्यक्रम में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी और शोभा करंदलाजे भी मौजूद रहे। पीएम किसान सम्मान निधि की 9वीं किश्त की रकम लाभार्थी किसानों के बैंक खातों में जारी होने के बाद केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने बताया कि पीएम-किसान योजना के तहत पात्र लाभार्थी किसान परिवारों को 6000 रुपये प्रति वर्ष का वित्तीय लाभ दिया जाता है और इस वित्तीय लाभ को 2000 रुपये की तीन किस्तों में प्रत्येक चार माह में प्रदान किया जाता है।

कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के 9.75 करोड़ से अधिक लाभार्थियों के बैंक खातों में 9वीं किश्त के रूप में 19,509 करोड़ रुपये हस्तांतरित किए है। कैलाश चौधरी ने कहा कि किसान कल्याण और कृषि समृद्धि केंद्र सरकार की प्राथमिकता है। इस योजना के माध्यम से अब तक 1,60,000 करोड़ ₹ किसानों को हस्तांतरित किए गए हैं। इसमें भी कोरोना संक्रमण में लॉकडाउन के दौरान 84,336 करोड़ ₹ किसानों को हस्तांतरित किए गए, जिससे निश्चित रूप से किसानों को आर्थिक संबल मिला है और उनका जीवन स्तर आसान और उन्नत हुआ है।

किसानों के हित में फैसले ले रही है मोदी सरकार :
केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कांग्रेस पर किसानों को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए कहा कि किसानों के कंधे पर बंदूक रख वार किए जा रहे हैं। मोदी सरकार द्वारा किसानों के हितों में किए जा रहे कार्यो का जिक्र करते हुए कैलाश चौधरी ने कहा कि पीएम-किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसानों के खाते में 6,000 रुपये डाले जा रहे हैं। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि राहुल गांधी सहित कांग्रेस के लोगों को क्या पता है कि जरूरत के समय किसानों के लिए 6,000 रुपये का क्या महत्व होता है। कृषि राज्यमंत्री ने कहा कि मोदी सरकार ने स्वामीनाथन कमीशन की रिपोर्ट को लागू कर किसानों को उनकी फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में डेढ़ गुना इजाफा किया है। उन्होंने कहा कि कॉन्ट्रेक्ट फार्मिग से छोटे किसानों को ज्यादा लाभ मिलेगा और किसान इस बात को भलीभांति समझते हैं।