You are currently viewing समय के पूरे सन्त सतगुरु बाबा उमाकान्त जी महाराज ने देश दुनिया की बीमारी जीवों की रक्षा के लिए ले लिया अपने ऊपर

समय के पूरे सन्त सतगुरु बाबा उमाकान्त जी महाराज ने देश दुनिया की बीमारी जीवों की रक्षा के लिए ले लिया अपने ऊपर

शाजापुर, म.प्र.दिल्ली से पधारे टाटधारी श्री सियाराम जी ने
शाजापुर जिले के पीर अमरौद में दिनांक 10 अगस्त 2021 को सत्संग सुनाते हुए बताया कि बाबा जयगुरुदेव जी महाराज जी के जानशीन, स्वयं सतपुरुष के साक्षात अवतार, मनुष्य शरीर मे मौजूद उज्जैन वाले बाबा पूज्य सन्त बाबा उमाकान्त जी महाराज जी ने देखा कि कोरोना काल मे मरीजो को एम्बुलेंस नही मिल पा रही तो एंबुलेंस की सेवा हर प्रांतो शुरु करा दिया। भोजन की दिक्कत महसूस की तो जगह-जगह देश-विदेश में भंडारा चालू करा दिया। अभी भी निरंतर कई जगह भंडारा चल रहा है।

महाराज जी ने बताया कोरोना का अचूक इलाज

जब कोरोना फैला तो सभी लोग परेशान होने लगे तो महाराज जी ने दवाई बता दिया लोगों के लिए। जो गुरु से मोहब्बत करते होंगे, गुरु की बात मानते होंगे, वह इस दवा को कर लेंगे। और दवाई क्या है? बताया अपना स्वयं का मूत्र गिलास या कटोरी में लेकर के सुबह-शाम 10 बार जयगुरुदेव नाम बोलकर के उसको 3 कुल्ली पी लेना, जो कोरोना रोग है वह खत्म हो जाएगा।

प्रेमियों की गुहार पर लिया कोरोना को अपने ऊपर

महाराज जी ने 10-12 दिन तक कुटिया के अंदर बन्द रहे, कहा मैं किसी से नहीं मिलूंगा। सारी देश-दुनिया की बीमारी अपने ऊपर ले लिया और जब 10-12 दिन के बाद कुटिया से बाहर निकले, बिल्कुल बीमार, एकदम से लगा कि आज ही चले जाएंगे, लकड़ी लेकर के निकले तब प्रेमियों का रो-रो कर बुरा हाल हो गए कि हमारे सर से अब छत्र-छाया हट जाएगा और अब यह भी हमें छोड़कर चले जायेंगे। फिर दूसरे दिन निकले, दर्शन दिये और बोले मैं अभी जाने वाला नहीं हूं। चिंता मत करो। गुरु महाराज की मौज अभी नहीं है। जो गुरु महाराज काम सौप करके गए है, वो पूरे किए बिना कैसे जाऊंगा?

आगामी भयंकर तकलीफों से बचने-बचाने के लिए गुरु पूर्णिमा पूजन प्रसाद सब जगह पहुंचा दो

धीरे-धीरे तबीयत ठीक हुई। अभी राजस्थान में चल रहे हैं और सबको आने वाली भयंकर बीमारीयों से बचाने के लिए महाराज जी ने गुरुपूर्णिमा के पावन पर्व पर देराठू आश्रम, अजमेर से भक्तों को सन्देश दिया कि अब 27 दिन की गुरु पूर्णिमा मनाई जाएगी और जो गुरु पूर्णिमा का प्रसाद है, हर घर पर पहुंच जाना चाहिए। कोई घर छूटना नहीं चाहिए। अभी कोरोना गया नहीं है। 6 अगस्त 2021 को राजस्थान में बताया कि जो आपने अभी तक तकलीफ-बीमारीयां, लोगों को तड़प-तड़प कर दुनिया छोड़ते देखा वो कुछ भी नहीं है। जो अभी जो तकलीफें आ रही है, अब तक की सब बीमारियों, तकलीफों को पीछे कर देंगी।

2017 में ही कर दी थी कोरोना के आने की भविष्यवाणी

महाराज जी जो कहते चले जा रहे, वह पूरा होता चला जा रहा है। 2017 में ही इस छूत की बीमारी के लिए बता दिया था। यूट्यूब चैनल जयगुरुदेवयूकेएम पर इसका पुराना वीडियो मिल जाएगा। कहा था वह समय आ रहा है की छुआछूत की बीमारी फ़ैलगी और बीमारी बहुत जोरों से फैली और हम लोगों को देखने को मिला।

अनमोल मनुष्य शरीर पाने का लक्ष्य जीते जी मुक्ति-मोक्ष प्राप्त कर लो

महाराज जी ने संदेश दे करके भेजा है की इस मानव शरीर का नाम है नर नारायणी शरीर। ये शरीर आप जितने भी लोग बैठे हो, आपको जल्दी मिलेगा नहीं। वह परमात्मा, वह नारायण इसी मानव शरीर में आता है। यह मनुष्य शरीर उस परमात्मा ने आपको थोड़े समय के लिए दिया है, गिनती की सांसे मिली है हम लोगों को। हमको सभी को हमेशा जिंदा नहीं रहना है। सांसों की पूंजी को इसी मकान-दुकान-संसार में हम लोग खर्च कर दे रहे हैं। हम लोग माया की छाया को पकड़ने में लगे हुए हैं। हम लोगों को समझना चाहिए कि 84 लाख योनियों में सर्वश्रेष्ठ मानव शरीर है। हमें वक्त के सतगुरु की खोज करके उनसे मुक्ति मोक्ष प्राप्त करने रास्ता नामदान लेकर के अपनी आत्मा का उद्धार करा लेना चाहिए।