You are currently viewing FATEHPUR- बिन भाई की बहनों से गाजीपुर पुलिस ने बंधवाई राखी

बिन भाई की बहनों से गाजीपुर पुलिस ने बंधवाई राखी

यूपी फाइट टाइम्स
महेश कुमार

गाजीपुर फतेहपुर: फतेहपुर पुलिस रविवार को उन बहनों के लिए हर्ष और उमंग के वो क्षण लेकर आई, जिसकी तलाश उन्हें बरसों से है। जिन बहनों को हर साल रक्षाबंधन पर भाई के न होने का मलाल बना रहता था, इस बार थानाध्यक्ष और पुलिसकर्मियों ने ऐसी बहनों के बीच जाकर न केवल राखी बंधवाई बल्कि उनकी रक्षा करने का वचन भी दिया। फतेहपुर पुलिस के इस काम की खूब प्रशंसा हो रही है।

जिले में गाजीपुर थानाध्यक्ष नीरज यादव ने अपने अधीनस्थ पुलिसकर्मियों के साथ थानाक्षेत्र के उन बहनों का पता करवाया, जिनके न तो सगे भाई हैं और न ही उनके दूर के रिश्ते में कोई भाई हैं। ऐसी बहनों के घर जाकर उनसे मिले और हाल-चाल पूछा। साथ ही उनसे यह भी जानने का प्रयास किया कि अब तक उन्होंने किसे राखी बांधी है।

सभी बहनों से बंधवाई राखियां
इस सवाल पर थानाध्यक्ष को जवाब मिला कि उनके कोई भाई नहीं हैं, इसलिए उन्होंने अभी तक किसी को राखी नहीं बांधी। बस फिर क्या था, थानाध्यक्ष नीरज यादव और अन्य पुलिसकर्मियों ने ऐसी सभी बहनों से अपनी कलाई पर भाई-बहन के प्रेम का अटूट धागा बंधवाया। इसके साथ ही सभी भाइयों ने मिलकर अपनी बहनों को उपहार से भर दिया। पुलिस का यह नजारा लोगों के लिए किसी कौतूहल से कम नहीं था। और ऐसा हो भी क्यों न, क्योंकि ऐसे नजारे यदा-कदा ही दिखाई देते हैं।

छलके खुशी के आंसू
पूजा, राशि, रिया, श्रेया और वंशिका ने बताया कि, जिस बहन के एक भी भाई न हों और फिर उन्हें फतेहपुर पुलिस भाई के रूप में मिले तो भला हमारे लिए आज के दिन इससे बड़ी खुशी की और क्या बात हो सकती है? ऐसी खुशियों के बीच भावनाएं हावी हो गईं और बहनों की आंखों में खुशी के आंसू छलक उठे।।