You are currently viewing FATEHPUR- ओवरलोड ट्रक धंसने से गाजीपुर से असोथर मार्ग में 7 घंटे लगा रहा जाम

ब्रेकिंग असोथर फतेहपुर

ओवरलोड ट्रक धंसने से गाजीपुर से असोथर मार्ग में 7 घंटे लगा रहा जाम

जाम में स्कूली वाहन फंसने की वजह से भीषण गर्मी में नौनिहाल बच्चों का बुरा हाल

संवाददाता महेश कुमार UFT NEWS असोथर फतेहपुर

असोथर फतेहपुर असोथर से गाजीपुर मार्ग में मंगलवार की सुबह 10 बजे खदरहा मोड़ के समीप एक गिट्टी लोड ओवर लोड ट्रक धंसने की वजह से एक किलोमीटर लम्बा जाम लग गया जिसमें स्कूली वाहन,प्राइवेट बस,निजी वाहन समेत सैकड़ों वाहन में सवार लोगों का भीषण गर्मी में बुरा हाल था वहीं लगभग-7 घंटे बाद शाम 5 बजे पहुंची क्रेन ने किसी तरीके से ट्रक को निकाला जिसके बाद आवागमन सुचारू रूप से चालू हुआ जिसके बाद राहगीरों ने राहत की सांस ली जिले की सबसे जर्जर मार्गों में सबसे पहले लोगों की जुबां पर गाजीपुर से असोथर मार्ग आ जाता है क्यूंकि इस 15 किलोमीटर मार्ग में जगह जगह जानलेवा गड्ढे हैं जिसमें आये दिन कोई न कोई वाहन फंसने की वजह से घंटों जाम के झाम से राहगीरों को जूझना पड़ता है इसी लिए जनपदवासियों में सबसे जर्जर मार्गों का जब जिक्र होता है तो गाजीपुर से असोथर मार्ग का नाम सबसे पहले आता है।।
बताते चलें कि पिछले लगभग 15 वर्षों से जनप्रतिनिधियों की उदासीनता के चलते इस मार्ग का न तो चौड़ीकरण करवाया गया न ही नवीनीकरण जिसकी वजह से इस अति ब्यस्ततम मार्ग में जगह जगह जानलेवा गड्ढे मौत को दावत देते आ रहे हैं इसी मार्ग में पिछले दस वर्षों में दर्जनों बार वाहन दुर्घटना में दर्जनों लोगों काल की गाल में समा भी चुके हैं इन सब के बावजूद भी क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों से लेकर प्रदे श सरकार इस मार्ग को बनवाने के लिए कभी गंभीर नहीं है जिसकी वजह से 2017 विधानसभा सभा चुनाव में अयाह शाह विधानसभा के मतदाताओं ने भाजपा विधायक को प्रचंड वोटों से बिजयी बनाया और प्रदेश में पूर्ण बहुमत की सरकार बनी तो लोगों को उम्मीद जगी कि अब इस मार्ग का उद्धार हो जायेगा लेकिन साढ़े चार साल बीतने के बाद क्षेत्रीय विधायक के प्रयास से इस मार्ग के चौड़ीकरण के लिए शासन ने 34 करोड़ का बजट पास किया जिसके बाद इसका टेंडर छाबड़ा *कांट्रक्सन को मिला जिसके बाद कंपनी ने अपनी मनमानी दिखाते हुए आधा अधूरा कार्य कराकर *कार्य ठप्प कर दिया जिसकी वजह से भारी बरसात के चलते यह मार्ग चौड़ीकरण होने के बावजूद पुनः पहले से ज्यादा *जर्जर हो गया और जगह जगह चार से पांच फुट गड्ढे हो गये जिसमें आये दिन वाहन फंसने की *वजह घंटों जाम के झाम में नौनिहाल *बच्चों महिलाओं बुजुर्गों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।।