इस गांव के 80% लोग बीमार स्वास्थ्य विभाग से कैंप लगाने की मांग।

0
127

बरेली /आंवला – स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के चलते मलेरिया के प्रकोप से लगभग पूरा गांव झूझ रहा है। गांव में लगभग 80% लोग बीमार हैं जो अपना इलाज प्राइवेट अस्पतालों मे करवा रहे हैं मामला मझगवां ब्लाक क्षेत्र की ग्राम पंचायत इस्माइलपुर का है जहां से स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही का पूरा मामला सामने आया है।
जिला मुख्यालय से लगभग 25 किमी दूर तहसील आंवला क्षेत्र का गांव इस्माइलपुर में इन दिनों डेंगू और मलेरिया जैसी घातक बीमारी ने अपने पैर पसार लिए है।  जिससे पूरे गांव में भय का माहौल बना हुआ है। जिससे हर कोई डर रहा है कि उसका परिवार भी इस जानलेवा बीमारी का शिकार न हो जाये। गांव के लोगो ने बताया कि अभी तक गांव में लगभग 80% लोग घातक बीमारी की चपेट में आ चुके हैं। जिसमे ज्यादातर डेंगू औे मलेरिया की बीमारी से पीड़ित है। जो इधर- उधर अस्पतालों मे हजारों रुपये खर्च कर अपना इलाज करवा रहे है।

लगातार इस बीमारी का प्रकोप गांव पर बढ़ाता ही जा रहा है, जिस ओर ना तो स्वास्थ्य विभाग का ध्यान है ना ही प्रसाशन का। वही पंचयात में इस कदर गंदगी का अंबार लगा हुआ है मानो स्वछता अभियान इस पंचयात से कोषों दूर है। गाँव मे नाली निर्माण नही है जिससे बीमारिया उत्पन्न हो रही है। पूरा खामियाजा ग्राम पंचयात की जनता को भुगतना पड़ रहा है गाँव के पूर्व प्रधान रामबीर सिंह, चौकीदार नत्थू लाल,अजय गुप्ता आदि ने बताया पूरव मे बीमारी के कारण कई मौतें हो चुकी हैं और अब गांव मे लगभग 80 प्रतिशत लोग बीमार हो चुके हैं जिनमे ज्यादातर मरीज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तक जाने मे असमर्थ हैं। स्वास्थ्य विभाग से गुजारिश है की गांव मे कैंप लगाया जाये।
इस संबंध मे जब गांव इस्माइलपुर के अन्तर्गत आने बाले सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मझगवां के “चिकित्सा प्रभारी डाक्टर वैभव राठौर से बात की गई तो उन्होंने बताया जल्दी ही गांव इस्माइलपुर मे कैंप लगाया जायेगा”

बरेली से बबलू सागर व सूरज सागर की रिपोर्ट।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here