कुशीनगर : डीएम के आदेशों को ठेंगा, गरीब मरीजों से लूट,रामकोला स्वास्थ्य केन्द्र बना धनउगाही का अड्डा

0
531

मरीजों के लिए बे मकसद बना सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रामकोला

▪ _*चिकित्सक को चिकित्सालय में ईलाज करने में बाधा डाल स्वयं करता फ़र्मासिस्ट आरबी चौहान ईलाज

मरीजों से बंपर अवैध धन उगाही कर मालामाल हो रहा हैं फ़र्मासिस्ट आरबी चौहान स्वास्थ्य चिकित्सा विभाग के अधिकारी बने तमाशबीन

शासन-प्रशासन के मंशा पर पानी फेर रहे हैं फ़र्मासिस्ट आरबी चौहान

कुशीनगर के कर्मठ एवं न्याय प्रिय जिलाधिकारी के सक्रियता पर पानी फेर रहे हैं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रामकोला के फ़र्मासिस्ट आरबी चौहान

चिकित्सालय के गेट के बाहर फ़र्मासिस्ट आरबी चौहान ने अपनी प्राइवेट साई पैथोलॉजी सेंटर खुद का किया हैं संचालित

अपने शिनियर डाक्टरों के साथ करता रहता है गांली गलौज

रामकोला स्वाथ केंद्र के चार सीनियर डाक्टर एवं कर्मचारियों ने फ़र्मासिस्ट रामबदन चौहान के विरुद्ध मुख्य चिकित्सा अधिकारी से किया शिकायत

ब्यूरो रिपोर्ट सरवर वारसी ✍

जनपद कुशीनगर के रामकोला सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के फ़र्मासिस्ट आरबी चौहान विगत 7 वर्षो से कार्यत हैं । स्वाथ केंद्र रामकोला के डाक्टर शेष कुमार विश्वकर्मा, व डाक्टर रजनीश कुमार श्रीवास्तव, और डाक्टर आनंद प्रकाश गुप्ता बाल रोग तथा डाक्टर राज कुमार समेत अन्य कई विभागीय कर्मचारी ने शिकायती पत्र मुख्य चिकित्सा अधिकारी को देते हुए बताया है की रामबदन चौहान ,फ़र्मासिस्ट सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रामकोला मे विगत 7 वर्षो से कायर्त है । घटना दिनांक 10 अप्रैल 2019 को रामबदन हम चारो डाक्टरों को गालियाँ दिया जिसकी सूचना शिकायती पत्र व मिडिया ने अपने माध्यम से अपर निदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य परिवार कल्याण अधिकारी गोरखपुर को दूरभाष से अवगत कराया पीड़ित चारो डाक्टरों ने ये भी अपनी पत्र मे बताया है की रामबदन चौहान प्रत्येक दिन अपना कार्य दावा वितरण न करके स्वयं मरीजों का ईलाज करता है जबकी चार चार डाक्टर मौजूद रहते हैं ।
फ़र्मासिस्ट रामबदन चौहान किसी भी रास्ट्रीय कार्यक्रमो मे कोई सहयोग प्रदान नही करता है जबकि उल्टे व्यधान उत्पन करता है डाक्टरों ने नीचे अपने पत्र में लिखा है की रामबदन चौहान ने पूर्व में इस तरह के कई घटनाएं कर चुका है जिसकी शिकायत कई बार कर्मचारियों द्वारा उच्च अधिकारीगण से किया जा चुका है । चारों डाक्टरों ने ये आरोप लगाते हुए कहा है की रामबदन स्थानीय राजनित मे स्लिप्त है इनके लिये गाली गलौज आम बात हो गया है फ़र्मासिस्ट के साथ कार्य करना संभव नहीं है । मुख्य चिकित्सा अधिकारी कुशीनगर ने बताया की मामला संज्ञान मे नहीं था आप के द्वारा संज्ञान में लाया गया है जिसकी जांच करा कर कार्यवाही किया जाएगा ।

यूपी फाईट टाईम्स के लिये कुशीनगर से सरवर वारसी की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here