आजादी के 74 सालों बाद जम्मू-कश्मीर के माछिल में होगी 24 घंटे बिजली आपूर्ति

जम्मू और कश्मीर के माछिल में आजादी के बाद पहली बार 24 घंटे की बिजली आपूर्ति वाला कुपवाड़ा जिले का दूसरा क्षेत्र बन हया है. यहां भारत के स्वतंत्र होने के 74 सालों बाद 24 घंटे बिजली की आपूर्ति की जा सकेगी. पावर- ​जेएंडके के प्रमुख सचिव रोहित कंसल ने इस बारे में बात करते हुए मीडिया से कहा कि उनका उद्देश्य अगले साल सभी सीमा क्षेत्रों को कनेक्टिविटी प्रदान करना है. बता दें कि भारत-पाकिस्तान सीमा पर नियंत्रण रेखा से सटे इलाकों में बुनियादी ढांचा लगातार विकसित हो रहा है. इससे पहले केरन को स्वतंत्रता दिवस के आसपाल बिजली की आपूर्ति की गई थी और वहीं दूसरे चरण में माछिल गांव में भी बिजली पहुंचाई गई.

बता दें कि केरन की तरह माछिल को भी शाम को तीन घंटे बिजली मिलती थी. उस क्षेत्र में काम करने वाले एक इंजीनियर ने विस्तार से बताया, “डीजी सेट के माध्यम से बिजली की उपलब्धता डीजल और वितरण की समस्याओं की तरह थी और इसलिए बहुत अविश्वसनीय थी, लेकिन अब बिजली ग्रिड को जगह दी गई है.” उनके अनुसार, माछिल देश का सबसे उत्तरी भाग है और एक कठिन भूभाग है इसलिए पिलर्स को खड़ा करना एक कठिन काम था. उन्होंने आगे कहा, “अब जो सिस्टम लगाया गया है, वह बिजली पैदा कर सकता है और बिना किसी समस्या के बिजली का प्रसार भी कर सकता है. “