दहेज की भेंट चढ़ गई एक और बेटी

रवि चंद्रा की रिपोर्ट

सरकार भले ही दहेज के लिए कितने भी कानून बना दे लेकिन कुछ समाज में ऐसे दरिंदे हैं और समाज में ऐसे मामले देखने को मिलता है जिसे देखकर यह सुनकर आपके रूह कांप उठेगे वैसे ही एक मामला प्रयागराज के थरवई थाना क्षेत्र के कोरसर गांव के 1 वर्ष पूर्व विवाहिता जूही मिश्रा पत्नी उदय नाथ मिश्रा को दहेज के लालच में ससुरालियों द्वारा लगातार प्रताड़ित किया जा रहा था जिसे जूही के मायके वाले बेटी की खुशहाली के लिए किसी तरह से पूरा करते चले आ रहे थे मगर उनकी लालच इस कदर बढ़ गई कि दहेज में कार नगदी जेवर की मांग करने लगे जिससे जूही के मायके वालों की तरफ से पूरा करना असंभव था जिसके चलते पति पत्नी और ससुरालियों के बीच कहासुनी और लड़ाई झगड़ा होता रहता था पत्नी जूही पति उदय नाथ मिश्र को लाख समझाने की कोशिश की लेकिन बहसी पति उदयनाथ मिश्र ने एक भी न सुनी वही पास में रखें लकड़ी के हथियार से गर्भवती पत्नी को बेतहाशा पीटता गया वह अपने बच्चे के लिए गिड़ गिड़ाटी
रही लेकिन बहसी पति ने एक भी नहीं सुनी और पीटता रहा। मृत समझकर पत्नी को छोड़ दिया फिर आनन-फानन में जिले के स्वरूप रानी अस्पताल में जूही और उसके पेट में पल रहे बच्चे को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। वही मौके पर छेत्राअधिकारी फूलपुर और थरवई थाने की पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर जांच में जुटी हुई है।