स्वरोजगार की योजनाओं में ऋण प्रदान करने में लापरवाही ना बरतें बैंक – मुख्य विकास अधिकारी

जनपद बलरामपुर
आत्मनिर्भरता व स्वरोजगार से संबंधित सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं में तेजी लाएं संबंधित अधिकारी- मुख्य विकास अधिकारी

संवाददाता राधेशयाम गुप्ता

स्वरोजगार की योजनाओं में ऋण प्रदान करने में लापरवाही ना बरतें बैंक – मुख्य विकास अधिकारी

दिनांक 31 दिसंबर 2020

विकास भवन सभागार में मुख्य विकास अधिकारी अमनदीप डूली की अध्यक्षता में उद्योग बंधु की बैठक आयोजित की गई। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी द्वारा उद्यमियों व व्यापारियों से उनकी समस्याएं पूछी गई। जिस पर एक नव उद्यमी ने बताया कि उनके द्वारा तुलसीपुर क्षेत्र में नया उद्योग स्थापित किया जा रहा है जिसमें 700 हॉर्स पावर विद्युत की आवश्यकता है। विद्युत विभाग द्वारा दिया गया एस्टीमेट काफी ज्यादा है। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा अधिशासी अभियंता विद्युत को पुराने लाइन से कनेक्शन दिए जाने का निर्देश दिया गया। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा अन्य उद्यमियों की शिकायतों का निस्तारण किए जाने का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया गया। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी द्वारा सरकार की स्वरोजगार व आत्मनिर्भरता से जुड़ी महत्वकांक्षी योजना की समीक्षा की गयी। मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना की समीक्षा के दौरान उपायुक्त उद्योग ने बताया कि इस योजना के तहत वित्तीय वर्ष 20-21 में 50 उद्यमियों को 97 लाख का ऋण दिए जाने का लक्ष्य प्राप्त हुआ है। अब तक 21 लाभार्थियों को 27.24 लाख का ऋण प्रदान किया जा चुका है। प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना की समीक्षा के दौरान उपायुक्त उद्योग ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 में 37 उद्यमियों को 111 लाख का ऋण प्रदान किए जाने का लक्ष्य प्राप्त हुआ है, जिसके सापेक्ष 33 लाभार्थियों को 54.68 लाख का ऋण प्रदान किया जा चुका है। एक जनपद एक उत्पाद योजना की समीक्षा के दौरान उपायुक्त उद्योग ने बताया कि भौतिक लक्ष्य 40 व वित्तीय लक्ष्य एक करोड़ के सापेक्ष 12 लाभार्थियों को 75.75 लाख का ऋण प्रदान किया जा चुका है। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा इन योजनाओं में और तेजी लाने व शत-प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त किए जाने का निर्देश दिया गया। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा बैंक स्तर पर ऋण प्रदान किए जाने में आनाकानी किए जाने पर नाराजगी जताते हुए लीड बैंक मैनेजर को बैंकों में लंबित ऋण आवेदन पत्र का निस्तारण कराए जाने का निर्देश दिया गया।
इस अवसर पर उपायुक्त उद्योग राजेश पांडे,जिला विकास अधिकारी गिरीश चंद्र पाठक ,लीड बैंक मैनेजर एनआर विश्नोई , खादी ग्रामोद्योग अधिकारी रामचंद्र, अधिशासी अभियंता विद्युत सुनील कुमार, मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी विनोद पांडे, औषधि निरीक्षक ओम प्रकाश, कनिष्ठ सहायक उद्योग ओंकार नाथ,अनिल कुमार गुप्ता, उद्यमी, व्यापारी एवं बैंक शाखा प्रबंधक उपस्थित रहे।