FATEHPUR- बीडीओ ने छात्र द्वारा बनाये गये होम आटोमेशन प्रोजेक्ट को सराहा

बीडीओ ने छात्र द्वारा बनाये गये होम आटोमेशन प्रोजेक्ट को सराहा

इस प्रोजेक्ट से किसान घर बैठे चला सकते है नलकूप

यूपी फाइट टाइम्स
ठा. अनीष सिंह

धाता– धाता कस्बे के सरस्वती विद्या मंदिर इण्टर कालेज के छात्र सचिन सिंह पुत्र राम अभिलाष सिंह ने एक अनोखा होम आटोमेशन माडल तैयार किया है । इस माडल का नाम डिजिटल स्विच है। जिसमे 4 रिले लगे है और इसके माध्यम से 5 एम्पीयर के लोड को कंट्रोल किया जा सकता है। जिसकी बीडीओ ने सराहना की
छात्र सचिन ने बताया कि माडल में रिले की संख्या बढ़ाकर और अधिक लोड को कंट्रोल किया जा सकता है।जिससे बिजली की खपत और समय को बचाया जा सके। माडल के द्वारा हम बाहर बैठकर भी घर के सारे इलेक्ट्रानिक उपकरण कंट्रोल कर सकते है। वाई फाई और ब्लूटूथ के माध्यम से घर मे लगे इलेक्ट्रानिक उपकरण जैसे पंखे, लाइट , मोटर आदि को मोबाइल द्वारा कन्ट्रोल किया जा सकता है। वाई फाई के जरिये किसान अपने ट्यूबवेल में लगे मोटर को घर से बैठे बैठे आन आफ कर सकते है। जिससे रात के अंधेरे में उनको खेत जाने की आवश्यकता नही पड़ेगी। इस माडल पर काम चल रहा है।
खण्ड विकास अधिकारी मुकेश कुमार द्वारा बनाये गए माडल की प्रशंसा की गई और विज्ञान के क्षेत्र में हमेशा नया करने के लिए विद्यार्थियों को प्रेरित किया गया। प्रबंधक राम सिंह व प्रधानाचार्य प्रदीप सिंह द्वारा मुख्यातिथि को स्मृति चिन्ह भेंट कर विद्यालय की ओर से सम्मानित किया। इससे पहले भी विद्यालय के कक्षा 12 के छात्र दीपक सिंह द्वारा कई प्रोजेक्ट पर काम किया गया। बांदा में आयोजित विज्ञान प्रदर्शनी में सुपर हेलमेट माडल को देखकर तत्कालीन जिलाधिकारी हीरालाल द्वारा दीपक सिंह को प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। बीडीओ मुकेश कुमार ने मिशन शक्ति फेज दो को लेकर विद्यार्थियों को जागरूक किया।
उन्होने कहा कि पर्दा प्रथा, दहेज प्रथा, एसिड अटैक, बाल विवाह के संबंध में बच्चों को जागरूक किया। बाल विवाह कानूनन अपराध है । बच्चों को शिक्षा देना उनके माता पिता का पहला कर्तव्य है । जब तक बच्चे मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ न हो जाये तब तक उन पर शादी के लिए दबाब नही देना चाहिए। सरकार द्वारा शादी के उम्र की सीमा भी निर्धारित की गई है। मुख्यातिथि मुकेश कुमार ने बोर्ड परीक्षा 2020 में बेहतर प्रदर्शन के लिए छात्रा नम्रता गुप्ता , वंदना सिंह, अनुष्का देवी, नाज़िया बनो को ट्रॉफी देकर सम्मानित किया।