पुरानी रंजिश को लेकर दो पक्षों में हुआ खूनी संघर्ष

फतेहपुर- धाता थाना क्षेत्र के धाता कस्बे में दो पक्षों में हुआ खूनी संघर्ष जमीनी विवाद की पुरानी रंजिश को लेकर धाता सोनारी रोड में दो पक्षों में चले जमकर लाठी डण्डे जिसमें कुन्ती देवी पत्नी हीरालाल उम्र 65 वर्ष आशा देवी पत्नी राजकुमार, नीलम देवी पत्नी शिव प्रकाश सोनी ओम प्रकाश पुत्र हीरालाल दूसरे पक्ष से गरूड़ तिवारी पुत्र अशोक तिवारी को गम्भीर चोटें आयी है सूचना पर धाता पुलिस बल मौके पर पहुँच कर सभी को लगभग 5:30 बजे धाता हास्पिटल पहुँचाया गया लेकिन वहाँ कोई डाक्टर नहीं मिले डाक्टर अंकित जायसवाल से फोन पर बात हुई तो बताया कि भदौहा गाँव में कोरोना पैजटिव मिला था उसी की जांच पर आये हुए है लेकिन भदौहा ग्राम प्रधान अजय श्रीवास्तव से फोन पर बात हुई तो बताया कि डाक्टर टीम दोपहर 12 बजे आयी हुई थी और लगभग एक बजे वापस चली गयी धाता हास्पिटल मे आये दिन डाक्टर नदारत रहते हैं अभी कुछ ही दिन पहले अटेलवा मोड़ पर 30 मई को मनोज पुत्र दिलखुश का एक्सीडेंट हुआ था पर डांक्टर न होने की वजह से उसको देर रात मन्झनपुर जिला हास्पिटल पहुँचाया गया जहाँ उसकी मृत्यू हो गयी थी लेकिन धाता हास्पिटल के डाक्टरों को कोई फर्क नहीं पड रहा है