दौड़ा दौड़ा कर लाठियों से पीटा दोनो पक्षों से जमकर चले ईंट पत्थर और लाठियां

कौशाम्बी:- सैनी कोतवाली क्षेत्र के नगर पंचायत अझुवा के अति संवेदनशील वार्डों में शुमार वार्ड नं 2 अम्बेडकर नगर में बीती देर रात दो पक्षों में जमकर लाठी डंडे पत्थर चले जिसमे 5 लोग घायल हुए है जिसमे 2 लोगों की स्थित गंभीर होने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को इलाज के लिए एम्बुलेंस से अस्पताल भेजवाया।

नगर पंचायत अझुवा के वार्ड नं 2 अम्बेडकर नगर में कपाड़िया जाति की बस्ती में बीती रात जमकर मारपीट हुई बीती रात दो पक्षों में जो भी विवाद था उसी पर आपस मे भिड़ंत हो गयी लुल्ला के अनुसार बहुत दिनों से दोनों पक्ष में विवाद चल रहा है जिसमे लगभग 8 वर्ष पहले दबंग पक्ष का सरगना ने दूसरे पक्ष लुल्ला के पुत्र मुग्गन उर्फ पप्पू की लाठियों से पीट पीट कर हत्या कर दी थी जिसमे आरोपी को जेल जाना पड़ा था
लुल्ला उम्र 60 वर्ष जो कि पैरों से पूर्ण विकलांग है के अनुसार उसने दो दिन पहले पुलिस अधीक्षक कौशाम्बी को आरोपियों के विरुद्ध शिकायती पत्र दिया था उस पर आरोपी सुलह होने का दबाव डाल रहा था समझौता नही करने पर जैसे मेरे एक पुत्र की हत्या कर दी थी उसी तरह दो बचे हुए पुत्रों की हत्या की धमकी देते हुए अझुवा से खदेड़ने का सुनियोजित षड्यंत्र कर रहा है जिसके तहत हमला किया गया है
मंगलवार को विवाद ही चल रहा था जिसमे एक पक्ष के लोगों ने लाठी डंडे सहित घातक औजारों से हमला कर दिया बचाव में दूसरे पक्ष ने भी मारपीट किया है इस झगड़े में दोनों पक्ष से 5 लोग घायल हुए हैं जिनमे 2 गंभीर घायलों को इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया।
झगड़े की सूचना पर स्थानीय चौकी प्रभारी विजय कुमार कुशवाहा अपने हमराहियों के साथ मौके पर पहुंचे जहां पर जमकर ईंट और पत्थर चल रहे थे किसी पुलिस कर्मचारी को पत्थर आदि न लग जाये पुलिस संख्या बल कम देखकर अझुवा इंचार्ज ने कोतवाली सैनी पुलिस को सूचना दी जिस पर फोर्स इकठ्ठा होकर मलिन बस्ती पहुंच कर मामले को संभाल लिया और घायलों को एम्बुलेंस से अस्पताल भेजकर अपेक्षाकृत जिसे कम चोट थी स्थानीय अस्पतालों में इलाज करवाया! मुख्य आरोपियों पर मुकदमा दर्ज करते हुए जेल भेजने की कार्रवाई में जुटी है।
वार्ड के सम्भ्रांत निवासियों ने बताया ये इनका प्रतिदिन का काम है शराब पीकर झगड़ा करना पूरे मोहल्ले में इन लोगों का आतंक है इस बस्ती में घुसते ही अवैध शराब की दुर्गंध से सांस लेना मुहाल है आबकारी विभाग हो या पुलिस लाखों रुपये महीने लेती है शिकायत होने पर कभी कभी आबकारी विभाग और पुलिस दिखावटी में कुछ लहन और शराब की बरामदगी, नष्ट दिखाकर अपने कर्तव्यों में चार चांद दिखा देती है !