FATEHPUR- इस रास्ते से संभल कर चलना बाबू रास्ता बड़ा डरावना है

खरपतवार भरे रास्ते से निकलने में राहगीरों को अपराधियों का बना डर

इस रास्ते से संभल कर चलना बाबू रास्ता बड़ा डरावना है

यूपी फाइट टाइम्स
ठा. अनीष सिंह।

विजयीपुर– जनपद मे घटनाओं या अपराधो का सिलसिला जोरो पर है आए दिन सड़क दुर्घटना व अपराधियों के कारनामे सामने आ रहे है इसका कारण यह भी है कि कही कही रास्ते बहुत ही खराब है जिससे दुर्घटनाए होती है विजयीपुर विकासखंड के अंतर्गत अभी कई ऐसे मार्ग हैं जो आज भी लोगों के लिए मुसीबत बनकर खड़े होते हैं जहां एक तरफ जनपद में अपराधों का सिलसिला नहीं थम रहा वहीं दूसरी ओर ऐसे रास्ते हादसों व अपराधों को बढ़ावा दे रहे हैं ।
जानकारी के मुताबिक बता दें कि विजयीपुर विकासखंड के किशनपुर से महावतपुर अससट से होकर जाने वाली जालंधरपुर मार्ग राहगीरो के लिए भयानक बना हुआ है और रास्ते से निकलने वाले राहगीर अपने आप को डरा महसूस करते हैं जानकारी के मुताबिक बता दें कि महावतपुर असहट से जालंधर पुर मार्ग के इर्द गिर्द इस तरीके से खरपतवार खड़ा है जैसे कोई भयानक जंगल हो जिससे सामने से आ रहे वाहन तक दिखाई नहीं देते जिससे हादसे होने का डर बना हुआ है वहीं दूसरी ओर इस मार्ग पर खरपतवार खड़ा होने से किसी दिन कोई अपराधी किसी दिन बड़ी घटना को अंजाम भी दे सकता है ।
वही आपको मालूम हो तो पिछले साल इसी मार्ग में लूट जैसी घटना को अंजाम दिया गया था जिस पर नेवाजपुर गांव के रहने वाले नन्हा निषाद की एक मोटरसाइकिल लुटेरों ने लूट ली थी साथ में कुछ नगदी व कुछ सामान भी लेकर रफूचक्कर हो गए थे जिसका खुलासा पुलिस आज तक नहीं कर पाई है और यह रास्ता आज भी ज्यों का त्यों बना हुआ है और यहां से निकलने वाला हर राहगीर अपने आप को डरा सहमा असुरक्षित महसूस कर रहा है वही जालंधर पुर गांव के रहने वाले दयाशंकर निषाद ने बताया कि रास्ते की किनारे खरपतवार व झाड़ियों से सामने से आ रहे वाहन नहीं दिखाई देते जिससे हादसा होने का डर बना रहता है साथ ही आसपास में यह भी नहीं दिखाई देता कि कौन कहां से आ रहा है जिससे लुटेरे इस रास्ते पर सक्रिय भी हो सकते हैं दयाशंकर निषाद ने बताया कि कई बार लोगों से रास्ते के बगल में खड़े खरपतवार को साफ कराने की बात कही गई थी लेकिन कुछ दबंग लोग उन्हें काटने से मना कर रहे हैं जिससे आवागमन करने वाले लोगों पर एक डर पैदा हो रहा है वहीं क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि हाल ही में अब किशनपुर में रामलीला का मंचन होना है जिसमें दूर दूर से लोग रामलीला को देखने के लिए आते हैं जिससे लोगों को इस रास्ते से जाने में समस्या का सामना करना पड़ सकता है और यह रास्ता किसी दिन बड़ी घटना को अंजाम दे सकता है दयाशंकर निषाद ने बताया कि रास्ते के इर्द-गिर्द खड़े खरपतवारो से अपराधी चोरी छिपे किसी दिन कोई बड़ा अपराध कर सकते हैं वहीं क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि अगर इस रास्ते को सही नहीं करवाया गया तो यह रास्ता किसी दिन किसी बड़ी घटना को अंजाम दे सकता है और खरपतवार होने की वजह से अपराधी भी सक्रिय हो सकते हैं ।