सल्तनत कालीन के पकड़े गये सिक्के, लाखो में हैं क़ीमत

कौशांबी ज़िले में पुलिस ने सल्तनत कालीन 171 तांबे के सिक्कें दो व्यक्तियों के पास से बरामद किए हैं। जिनकी क़ीमत अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में लाखो में आंकी जा रही हैं। जिसे आरोपी बेचने के फिराक में थे। पकड़े गए व्यक्तियों को पुलिस ने न्यायलय में प्रस्तुत किया। जहा से उन्हें जेल भेज दिया गया।


सैनी कोतवाली क्षेत्र के भौतर गाँव के रहने वाले मुकेश कुमार तांबे के 171 एंटीक सिक्कें बेचने के लिये अजुहा क़स्बा स्थित अर्जुन कुमार सोनी को बेचने के लिये आया था। इसकी सूचना मुख़बिर ख़ास ने एसओजी प्रभारी सर्वेश कुमार सिंह को दी। जानकारी मिलने के बाद एसओजी और कोखराज़ पुलिस की सयुक्त टीम ने क़स्बे में पहुच कर दोनो व्यक्तियों को गिरफ़्तार कर लिया। उनके पास से बरामद हुवे सिक्कों को पुरातत्व विभाग ने अलाउद्दीन खिलज़ी के दौर का बताया हैं। इन सिक्कों पर अरबी से कलमा लिखा हुआ हैं। इसकी क़ीमत अंतरराष्ट्रीय बाज़ारों में लाखों में आंकी जा रही हैं। गिरफ़्तार हुए मुकेश पूरी ने बताया कि ये सिक्कें उनके पूर्वजों के हैं। लाँक डाउन में उनकी माली हालत ठीक नही होने पर इन सिक्कों को बेचने जा रहे थे। लेकिन पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया। प्रेसकांफ्रेन्स के बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों को न्यायलय में प्रस्तुत किया। जहा से माननीय न्यायालय ने दोनों को जेल भेज दिया।