डीएवी इंन्टर कॉलेज मनकापुर के शिक्षक भुखमरी के कगार पर

डीएवी इंन्टर कॉलेज मनकापुर के शिक्षक भुखमरी के कगार पर

मनंकापुर /गोण्डा-डीएबी इन्टर कालेज आई.टी.आई मनकापुर के शिक्षको को सैंतीस माह से वेतन न मिलने से भूख-मरी के कगार पर पहुंच गये है और चुनाव का वहिष्कार की चेतावनी भरा पत्र जिला निर्वाचन अधिकारी को भेजा है।
जानकारी के अनुसार आईटीआई लिमिटेड मनकापुर के आवासीय परिसर संचार विहार में स्थित में डीएवी इंटर कालेज मनकापुर के शिक्षको ने जिला निर्वाचन अधिकारी गोण्डा डा० नितिन बंसल को उपजिलाधिकारी मनकापुर वीर बहादुर यादव के द्वारा भेजे पत्र में कहा है कि डीएवी इंटर कालेज वित्त पोषित जो आईटीआई लि० मनकापुर(भारत सरकार उपक्रम) के शिक्षको/कर्मचारियो को विगत सैतीस माह से विद्यालय प्रबंधतंत्र द्वारा वेतन न दिये जाने से सभी कर्मचारियो ने आगामी लोक सभा चुनाव का वहिष्कार करेगें।वेतन भुगतान न किये जाने से विद्यालय परिवार भूखमरी के कगार पर है।

जिससे परिजनो के पालन पोषण को लेकर समस्या का समना करना पड़ रहा है।विद्यालय परिवार का कहना है वेतन नही-तो वोट नही का नारा विद्यालय परिसर में लगाते हुए शिक्षक-कर्मचारियो ने विरोध प्रदर्शन किया।आईटीआई लिमिटेड मनकापुर के स्ंचार बिहार आवासीय परिसर में डीएवी इंटर कालेज की स्थापना वर्ष 1986में भारत सरकार के उपक्रम के तहत स्थापित किया गया था जो माध्यामिक शिक्षा परिषद उत्तर-प्रदेश से इंटर मीडिएट तक मान्यता प्राप्त कर जनपद में ए श्रेणी में अपना एक मुकाम बना रखा है और विंद्यालय में तेैनात शिक्षक-कर्मचारी की नियुक्त माध्यामिक शिक्षा परिषद के नियमानुसार शिक्षक-कर्मचारी की तेैनाती किया गया जो वर्तमान में बत्तीस स्टाफ है।जिन्हे विद्यालय प्रबन्धन द्वारा समय-समय पर वेतन भुगतान किया जाता था।इसी दौरान आई टी आई की तंगी हलात होने से वीते तीन साल पूर्व वर्ष 2016 से प्रबंधन तंत्र द्वारा हाथ ख़डा कर लेने और लिखित रुप वेट न करने की बात कही गयी। रिपोर्टर राजेश शुक्ला।

Leave a Reply