You are currently viewing निलंबित बी.एल.ओ. शिक्षकों की बहाली एवम् प्रेरणा डी.बी.टी. के विरुद्ध उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ कौशांबी ने की जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कौशांबी से वार्ता

निलंबित बी.एल.ओ. शिक्षकों की बहाली एवम् प्रेरणा डी.बी.टी. के विरुद्ध उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ कौशांबी ने की जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कौशांबी से वार्ता

पिछले दिनों माननीय जिलाधिकारी महोदय द्वारा चुनाव कार्यों की समीक्षा के दौरान कुछ बी.एल.ओ. ड्यूटी कर रहे शिक्षकों को निलंबित कर दिया गया था। उक्त निलंबन का आदेश मिलते ही शिक्षकों में घोर निराशा फैल गयी। शिक्षकों ने इसका विरोध किया और बात नव निर्वाचित जिलाध्यक्ष (उ.प्र.प्रा.शि. संघ) अनिल कुमार सिंह तक पहुंच गयी। जिलाध्यक्ष महोदय ने तुरंत प्रकरण को संज्ञान में लेते हुए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी से मुलाकात की। उनके समक्ष मजबूती से इस बात को रखा कि बी.एल.ओ. कार्य शिक्षण कार्य के अतिरिक्त अध्यापकों को सौंपा गया है जो कि माननीय उच्च न्यायालय के आदेश के खिलाफ है। श्रीमान जी से निवेदन है की निलंबित बी.एल.ओ. अध्यापकों को तुरंत ससम्मान बहाल कराया जाए। अन्यथा की स्थिति में संगठन आंदोलन करने पर विवश होगा। प्रशिक्षित कंप्यूटर ऑपरेटर होने के बावजूद भी अध्यापकों से प्रेरणा डीबीटी पर फीडिंग कराने का कार्य लगातार कराया जा रहा है। यह भी घोर चिंता का विषय है। आपसे आग्रह है कि इस प्रकरण को भी संज्ञान में लें और डाटा फीडिंग कंप्यूटर ऑपरेटर से कराने का कष्ट करें। ताकि अध्यापक विद्यालय में घुटन महसूस ना करें। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने विश्वास दिलाया दोनों प्रकरण को संज्ञान में लेते हुए न्यायोचित निर्णय लिया जायेगा। इस मुलाकात में जिलाध्यक्ष अनिल कुमार सिंह के साथ यूटेक पेंशन बहाली मंच के प्रदेश संगठन मंत्री अरुण गोविल सिंह, अध्यक्ष सिराथू ईश्वर शरण सिंह, रहमत अली, पवन यादव, देवनारायण, अध्यक्ष नेवादा प्रमोद सिंह, मंत्री चायल राजेश कुमार, पंकज कुमार, देवेंद्र, जिला संयोजक(यूटेक) अतमम अली वीरेंद्र बहादुर, बृजेंद्र सिंह, मंत्री नेवादा सुरेशचंद्र, प्रदीप चौधरी, प्रशांत कुमार, अजय सिंह, निवर्तमान जिला मंत्री ध्यान सिंह, पंकज सिंह एवं अन्य शिक्षक साथी उपस्थित रहे।