You are currently viewing FATEHPUR- सोसायटी में वाचमैन की नौकरी करने वाले ब्यक्ति की सन्दिग्ध परिस्थितियों में मौत

असोथर फतेहपुर

सोसायटी में वाचमैन की नौकरी करने वाले ब्यक्ति की सन्दिग्ध परिस्थितियों में मौत

संवाददाता महेश कुमार UFT NEWS असोथर फतेहपुर

असोथर/फतेहपुर असोथर ब्लाक के पिरुआ का डेरा, बदलेवा मजरे सरकंडी निवासी उदयभान की मौत की खबर सुन पूरे परिवार का रो रो कर बुरा हाल हो गया। जानकारी के अनुसार मृतक उदयभान निषाद उम्र 45 लगभग पुत्र रामशिरोमन निषाद पिरुआ का डेरा, बदलेवा मजरे सरकंडी, ब्लाक असोथर जनपद फतेहपुर का निवासी है मृतक उदयभान के भाई रीमचन्द्र, देशराज के अलावा पत्नी राजरानी उम्र 40 वर्ष लगभग तथा पुत्र कमल 13 वर्ष, मीना 10 वर्ष, आरती 8 वर्ष, पुष्पा 6 वर्ष व कुल्दीप लगभग दो वर्ष का है।
मृतक उदयभान मुम्बई में लगभग 3 वर्ष से रह रहा था जो कि सोसायटी में वाचमैन का काम करता था तथा भाई देशराज मुम्बई में ही दूसरी जगह कालाश्री महाराष्ट्र में रहता है। उदयभान को सुपरवाइजर मंगेश ने काम में रखा था और मंगेश ने ही बृहस्पतिवार को रात्रि 8 बजे फोन करके घर पर राजरानी को सूचना दी थी कि आपके पति की तबियत ज्यादा खराब है। इसलिये उसको अस्पताल में भर्ती करवा दिया गया है। आप अपने लोगों को जल्द भेज दीजिये। तो राजरानी ने उदयभान से बात करवाने की बात कही तो मंगेश ने कहा कि तबियत ज्यादा ख़राब होने के कारण बात नहीं हो सकती है। तत्काल कालाश्री में रह रहे दूसरे भाई रामचंद्र व देशराज को सूचना दी गई। वह लोग हास्पिटल पहुंचे। शनिवार को इलाज के दौरान उदयभान की मौत हो गई जिसके बाद परिजनों ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर शव को एंबुलेंस में लेकर घर आने के लिए रवाना हो चुके हैं।
पत्नी राजरानी के अनुसार बृहस्पतिवार को ही सुबह लगभग 10 बजे के करीब मृतक उदयभान ने घर में अपनी पत्नी राजरानी से बात किया था कि हम ठीक है। घर में सब लोग कैसे इस बारे में भी बात की थी और बताया था कि हम खाना खा कर ड्यूटी करने जा रहे हैं। उसी दिन शाम को मंगेश ने 8 बजे के करीब फोन करके सूचना दी थी कि उदयभान की तबियत बहुत ज्यादा खराब है और बात न हो पाने की बात कही थी। अचानक इतनी तबियत बिगड जाने की बात परिवार के गले नहीं उतर रही है। खबर लिखे जाने तक शव घर नहीं पहॅुच पाया और न ही मृत्यु का कारण पता चल पाया है।