You are currently viewing अधिवक्ताओं ने की धारा 122 बी 4एफ को उत्तर प्रदेश राज्य संहिता 2006 में जोड़ने की मांग

अधिवक्ताओं ने की धारा 122 बी 4एफ को उत्तर प्रदेश राज्य संहिता 2006 में जोड़ने की मांग।
सोरांव(प्रयागराज)। सोरांव तहसील के अनुसूचित जाति के अधिवक्ताओं ने मंगलवार को बैठक कर राजस्व संहिता की धारा 122 बी 4एफ को उत्तर प्रदेश 2006 में जोड़ने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ को एक पत्र लिखा।
जानकारी के अनुसार धारा 122 बी 4एफ अधिनियम 1950 उत्तर प्रदेश राजस्व संहिता 2006 में नई धारा न बनाने से भूमिहीन,खेतिहर,मजदूर, अनुसूचित जाति,अनुसूचित जनजाति के गरीब व्यक्ति कब्जे के आधार पर असंक्रमणीय भूमि का अधिकार पाने से वंचित हैं। जिसके लिए तहसील सोरांव के अनुसूचित जाति के अधिवक्ताओं ने बैठक कर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार से धारा 122 बी 4एफ को राजस्व संहिता 2006 में जोड़ने की मांग की है। बैठक में वरिष्ठ अधिवक्ता बच्चूलाल, ईश्वरचंद्र एडवोकेट, पूर्व अध्यक्ष राम सजीवन एडवोकेट, राजेश कुमार एडवोकेट,सचिन कुमार एडवोकेट, आशीष कुमार एडवोकेट, शंकर लाल एडवोकेट, राजकुमार एडवोकेट, पंकज गौतम एडवोकेट आदि सैकड़ों अधिवक्ता साथी उपस्थित रहे।