You are currently viewing FATEHPUR- मूसलाधार बारिश व तेज हवाओं के चलने से कई कच्चे मकान गिरे, हुआ जलभराव

मूसलाधार बारिश व तेज हवाओं के चलने से कई कच्चे मकान गिरे, हुआ जलभराव

यूपी फाइट टाइम्स
ठा. अनीष सिंह

फतेहपुर (ब्यूरो)– ग्राम पंचायत सैदपुर भुरूही के महिमापुर गांव में झल्लर सिंह पुत्र नर्मदा के मकान में दीवाल बाहर की ओर गिर गयी गलीमत तो ये रही कि रात्रि के वक्त होने के कारण आस पास कोई नही था नही बड़ी जनहानि हो सकती थी दीवाल गिरने से दीवाल को चपेट में भैस आ जाने से चोट आई हैं जिसका उपचार चल रहा है उसके अलावा उसी परिवार के अभिषेक, धीरेंद्र ,बुधराज,नेहा, नीतू, शोभित, अमित सभी लोग इससे सहमे हुए है ग्राम प्रधान ब्रजेंद्र सिंह ने बताया कि इन परिवार का प्रधानमंत्री आवास योजना में नाम भेजा लेकिन चुनावी रंजिश के कारण लोगों ने उनका नाम कटवा दिया और तेज बारिश के चलते हैं बीती रात इनका मकान की दीवार ढह गई जिससे अब परिवार खुले आसमान के नीचे रहने को विवश हैं खाने पीने के समान सहित घर गृहस्ती का सामान दब गया है जिससे अब उनके सामने खाने पीने की भी समस्या आ पड़ी है देखने वाली बात होगी कि जिम्मेदार व समाजसेवी कब इस ओर ध्यान आकर्षित करेंगे।

▪️देर रात परिवार सहित सो रहे लोगों के ऊपर कच्चा मकान ढहा एक महिला की हालत गंभीर

किशनपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत के भावना पुर गांव में बीती रात करीब 1:00 बजे तेज हवा व मूसलाधार बारिश के चलते कच्चा मकान ढह गया जिसमें एक ही परिवार के 5 बच्चे सहित माँ भी दब गयी तेज आवाज सुन आस पास के लोग तुरंत आये और आनन फानन जल्दी से मलबे को हटाने लगे बच्चे तेजी से रोते बिलखते इधर-उधर बाहर हुए जिन को चोटे आई वहीं उनकी मां फूलमती पत्नी पितांबर निषाद उम्र 32 वर्ष के कमर और पैर में मलबा तेजी से गिर जाने के कारण गंभीर चोटें आई हैं जिसमें उनका पैर टूट गया है सुबह उपचार हेतु एंबुलेंस को सूचना दी गई जिस पर तुरंत एंबुलेंस मौके पर पहुंचकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हरदो उपचार के लिए लेकर रवाना हुई

▪️तेज बारिश से घर के आस-पास नदी जैसे हुआ हाल

विजयीपुर विकासखंड की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत रायपुर भसरौल में भारी बारिश होने के कारण कई जगह जलभराव जैसी स्थिति सामने आ रही है जहां पर शासन की कई महत्वपूर्ण योजनाओं का लाभ अभी भी जमीनी स्तर में देखने को नहीं मिल रहा है बात करें तो रायपुर भसरौल के ठकुरन डेरा के महेश सिंह पुत्र धनराज सिंह के माकान में जलभराव व रोड का पानिबकी जलनिकासी न होने से तालाब जैसे हो जाता है जिससे लोग उसी से आते जाते है और जहरीले कीड़े मकोड़े से डर बना रहता है