संवाददाता राधेश्याम गुप्ता

  • देश में कोरोना काल में प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम यानी पीएमईजीपी यहत देश भर में कोरोना महामारी के दौरान एक लाख दस हजार लोगों को काम दिया गया है।
    इस कार्यक्रम के जरिए देशभर में वित्त वर्ष 2017-18 से लेकर अब तक साढ़े 3 साल में 15 लाख से ज्यादा लोगों के लिए रोजगार सृजन का काम किया गया है वही उत्तर प्रदेश में एमएसएमई क्षेत्र में अप्रैल से अगस्त तक के बीच सर्वाधिक 14,616 नौकरियां दी गई हैं । सूक्ष्म लघु और मध्यम उद्योग मंत्रालय ने लोकसभा में दिए जवाब में देश भर के लिए सभी राज्यों में रोजगार सृजन के आंकड़े बताए हैं।
    मौजूदा वित्त वर्ष यानी 2020-21 में 31 अगस्त तक कुल 1 लाख दस हजार लोगों को काम मिला है। मौजूदा वित्त वर्ष के दौरान कोरोना महामारी के प्रकोप के चलते देशभर में लॉकडाउन भी देखने को मिला है। अप्रैल से अगस्त महीने के बीच इस साल एमएसएमई क्षेत्र में पूरे देश में सबसे ज्यादा 14,616 नौकरियां उत्तर प्रदेश में मिली है। प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम स्वरोजगार योजना है जिसके तहत अधिकतम 25 लाख का लोन स्वरोजगार हेतु उपलब्ध कराया जाता है।