हर्षोउल्लास के साथ मनाया गया असत्य पर सत्य की जीत का प्रतीक पर्व दशहरा

हर्षोउल्लास के साथ मनाया गया असत्य पर सत्य की जीत का प्रतीक पर्व दशहरा

संवाददाता राधेश्याम गुप्ता


सादुल्लानगर /बलरामपुर
जब-जब होई धरम कै हानि,
बाढै असुर अधम अभिमानी,
तब तब प्रभु धरि विविध शरीरा,
हरहों कृपा निधि सज्जन पीरा ‘
अर्थात पृथ्वी पर जब-जब धर्म की हानि होती है तब-तब रूप बदलकर प्रभु का अवतरण होता है,भगवान ने स्वयं कहा भी है कि जब जब पृथ्वी पर धर्म की हानि होती है तब तब मैं स्वयं अवतरित होकर दुष्टो का संहार कर अपने भक्तो की रक्षा करता हूँ.. .
स्थानीय बाजार सादुल्ला नगर मे विजय दशमी का पावन पर्व सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए हर्ष और उल्लास के साथ हनुमान गढ़ी चौराहा पर रामलीला मंचन के माध्यम से मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम ने अहंकारी,अत्याचारी रावण का वध करके एक बार फिर से अधर्म पर धर्म की जीत,असत्य पर सत्य की जीत की स्थापना की… कोरोना एवं कोविड -19 को देखते हुए इस बार बाजार में मेले का आयोजन नहीं किया गया इस अवसर पर बाजार के तमाम संभ्रांत व्यक्ति उपस्थित रहे इसमें रमेश चंद तिवारी,बहरैची प्रसाद गुप्ता,ज्ञान चंद सोनी,दीपचंद जयसवाल,जग प्रसाद गुप्ता,दिनेश गुप्ता,राधेश्याम गुप्ता,प्रेम चंद्र सोनी,जग प्रसाद गुप्ता,अवधेश कुमार गुप्ता,विष्णु गुप्ता,राम लोटन गुप्ता,राम बहोर बर्मा,अंटू गुप्ता,संतोष गुप्ता,अमन गुप्ता, निलेश गुप्ता,जगदीश पटवा,बजरंगी यादव,लवकुश इलेक्ट्रॉनिक, विनय गुप्ता,सुनील गुप्ता,राम बाबू मोदनवाल,राहुल गुप्ता, प्रेम चंद गुप्ता,दिव्यांश गुप्ता,मनोज कनौजिया इत्यादि लोग सम्मिलित हुए.. इस अवसर पर आदर्श श्री रामलीला समिति एवं केंद्रीय दुर्गा पूजा समिति,सादुल्लानगर के अध्यक्ष माननीय श्री रमेश चंद तिवारी जी ने सभी क्षेत्रवासियों एवं बाजार वासियों को विजयदशमी की शुभकामनाएं प्रेषित की…