शतप्रतिशत कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग सुनिश्चित करें स्वास्थ्य विभाग – मुख्य विकास अधिकारी

संवाददाता राधेश्याम गुप्ता

दिनांक 21 अगस्त, 2020
बलरामपुर। कोरोना संक्रमण के रोकथाम हेतु मुख्य विकास अधिकारी अमनदीप डुली की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में बैठक संपन्न – कोरोना संक्रमण के रोकथाम हेतु मुख्य विकास अधिकारी द्वारा स्वास्थ विभाग व अन्य संबंधित विभागों के साथ बैठक की गई। बैठक में कोविड-19 पॉजिटिव पाए जा रहे व्यक्तियों के कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग के संबंध में चर्चा की गई। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा की कांटेक्ट ट्रेसिंग शतप्रतिशत सुनिश्चित की जाए । पॉजिटिव पाए गए व्यक्तियों के संपर्क में आए व्यक्तियों की जांच 48 घंटे के भीतर किया जाना सुनिश्चित किया जाए। बैठक में सेंपलिंग को लेकर चर्चा की गई। ब्लॉकों के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों ने बताया कि कुछ ग्रामीण क्षेत्रों व शहरी क्षेत्रों के लोगों द्वारा सैंपलिग नहीं करवाया जा रहा है। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा ऐसे क्षेत्रों में पुलिस बल की मदद से सैंपलिंग करवाए जाने का निर्देश दिया गया व इसके लिए संबंधित एसडीएम की मदद लिए जाने का निर्देश दिया गया।


मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि ग्राम स्तर पर गठित निगरानी समिति द्वारा दिए गए कार्यों को सही रूप से संपादित नहीं किया जा रहा है। निगरानी समिति का कार्य है कि यदि ग्राम में कोई भी व्यक्ति कोरोना के लक्षण जैसे बुखार ,सर्दी ,खांसी से ग्रसित होता है तो इसकी जानकारी तुरंत स्वास्थ्य विभाग को दिया जाए, किंतु देखा जा रहा है कि निगरानी समिति द्वार सूचना नहीं दी जा रही है। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा जिला विकास अधिकारी व प्रभारी जिला पंचायत राज अधिकारी को ग्राम निगरानी समिति के कार्यों का उत्तरदायित्व निर्धारित किये जाने का निर्देश दिया गया।
ब्लॉकों के चिकित्सधिकारियों ने बताया कि डाटा एंट्री स्टाफ की कमी के चलते कोरोना फीडिंग कार्यों में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा बेसिक शिक्षा अधिकारी को कंप्यूटर कार्य में निपुण शिक्षकों व कंप्यूटर ऑपरेटर की ड्यूटी सीएचसी में लगाए जाने का निर्देश दिया गया।
अपर सीएमओ डॉ एके. सिंघल ने बताया कि जनपद में अब तक कुल 687 कोरोना पॉजिटिव केस आ चुके हैं, जिसमें 412 कोरोना मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। 14 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मृत्यु हो चुकी है, वर्तमान में जनपद में 261 कोरोना सक्रिय केसों की संख्या है। अपर सीएमओ डॉक्टर एके. सिंघल ने बताया कि जनपद में कोरोना केसो की संख्या दोगुनी होने का का समय 10 दिन का है। अपर सीएमओ डॉ एके सिंघल ने बताया कि जनपद में सर्वाधिक केसों की संख्या शहरी क्षेत्र में है। बलरामपुर शहरी क्षेत्र में कुल 250 केस आ चुके हैं। स्वास्थ विभाग द्वारा बलरामपुर शहरी क्षेत्र में विशेष अभियान चलाकर सैंपलिंग किया जा रहा है।
मुख्य विकास अधिकारी द्वारा सीएमओ को कोरोना से लड़ाई में प्राइवेट डॉक्टर की मदद लिए जाने का निर्देश दिया गया। बैठक में डब्ल्यूएचओ के क्षेत्रीय समन्वयक डॉक्टर उपांत डोगरे द्वारा जनपद में कोरोना के रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों का फीडबैक मुख्य विकास अधिकारी को दिया गया।
इस अवसर पर अपर सीएमओ डॉ एके सिंघल, अपर सीएमओ बी.पी. सिंह, डॉ अरुण कुमार, जिला विकास अधिकारी गिरीश चंद्र पाठक, ब्लॉकों के चिकित्साधिकारी, प्रभारी जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी, ड्रग निरीक्षक व अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।