FATEHPUR- अमर शहीद मेजर सलमान खान को नम आंखों से दी गई श्रद्धांजलि

फतेहपुर07 मई।सामाजिक दूरी का पालन करते हुए अमर शहीद मेजर सलमान खान की कुर्बानी याद कर उनके समाधि स्थल पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए गए इस दौरान लोगों की आंखें नम हो गई हालांकि लोगों में इस बात की नाराजगी रही की अमर शहीद की जन्मस्थली पर शासन प्रशासन द्वारा किए गए कोई वादे पूरे नहीं किए गए।कोतवाली क्षेत्र के मिस्सी गांव में जन्मे अमर शहीद मेजर सलमान खान की बरसी में सामाजिक दूरी का पालन करते हुए उनके परिवार व गांव के कुछ चंद लोग उनकी समाधि स्थल पर पहुंचे और श्रद्धा सुमन अर्पित कर अमर शहीद मेजर सलमान खान की कुर्बानी याद किया इस दौरान लोगों की आंखें नम हो गई बताते चलें कि अमर शहीद मेजर सलमान खान का जन्म 22 अक्टूबर 1978 को हुआ था उनके पिता का नाम मुस्ताक अहमद तथा माता का नाम रशीदा बेगम था पांच भाई-बहनों में मेजर सलमान खान चौथे नंबर पर थे 7 मई 2005 को वह जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में आतंकवादियों से मुकाबला करते शहीद हुए थे मरणोपरांत वर्ष 2006 में शौर्य चक्र से उन्हें सम्मानित भी किया गया था अमर शहीद मेजर सलमान खान की बरसी में मोहम्मद हारून मोइन अहमद मतीन यार पुनीत मिश्रा सुजीत कुमार मोहम्मद अहमद आदि लोग मौजूद रहे। वही अमर शहीद मेजर सलमान खान की बरसी में अमर शहीद मेजर सलमान खान के बड़े भाई इकरार खान तथा गांव के ही रहने वाले रिश्तेदार कांग्रेस।अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष बाबर खान का आरोप है कि अमर शहीद मेजर सलमान की शहादत के बाद शासन प्रशासन ने जो भी वादे किए थे उनमें कोई पूरे वादे नहीं किए गए गांव में उनके नाम पर बना पार्क भी बदहाली की स्थिति में दिखाई दे रहा है।
♦♦