FATEHPUR- यह गलियां यह चौबारा बाबू रोटी व रनियापुर न आना दोबारा

ठा. अनीष सिंह

अमौली विकासखंड के रोटी ग्राम सभा के मजरे रनियापुर मे सड़कों का यह बुरा हाल है कि आज रास्ते को देखने पर प्रतीत होता है कि रास्ते पर बड़े-बड़े गड्ढे एवं रास्तों पर भरा हुआ पानी कावेरी नदी का रूप ले रहा है रनियापुर गांव के अंदर प्रवेश करते ही यह मंजर देखने को मिलता है रास्ते में पूर्ण रूप से जलभराव होने के कारण आए दिन कोई न कोई घटनाएं होती रहती है परंतु अभी तक ना तो ग्राम प्रधान ने कोई कार्रवाई की है ना ही प्रशासन ने रोटी ग्राम सभा के स्थानी नागरिक आशापुर का प्रधान है ग्रामीणों ने प्रधान से कई बार शिकायत की है फिर भी ग्राम प्रधान कोई सुनवाई नहीं कर रहा अपनी मनमानी कर रहा है यह मुख्य मार्ग रनियापुर मे प्रवेश करने के लिए है जो पूरी तरह ध्वस्त हो चुका है परंतु अभी तक ग्राम प्रधान राज कुमार वर्मा ने कोई सुनवाई नहीं किए जिस तरह ग्रामीणों को बहुत ही दिक्कत का सामना करना पड़ता है जो स्थानीय नागरिकों का कहना है कि रास्ते में भारी जलभराव होने के कारण अगर कोई अनहोनी होती है तो इसका जिम्मेदार कौन होगा जब इस संबंध में विकासखंड अधिकारी पारूल कटियार से संपर्क किया गया तो उनका फोन कवरेज एरिया के बाहर बता रहा था