You are currently viewing FATEHPUR- किशनपुर क्रय केंद्र पर मिलीभगत का आरोप लगा राज्यपाल को भेजा ज्ञापन

तौल ना होने से नाराज किसानों में राज्यपाल को भेजा ज्ञापन

किशनपुर क्रय केंद्र पर मिलीभगत का आरोप लगा राज्यपाल को भेजा ज्ञापन

यूपी फाइट टाइम्स
ठा. अनीष सिंह

फतेहपुर (ब्यूरो)– किशनपुर क्रय केंद्र पर किसानों की तौल न हो पाने से किसानों में भारी आक्रोश है और किसान आए दिन किशनपुर क्रय केंद्र पर हंगामा काट रहे हैं जिस पर राजनीतिक दलों का भी जमावड़ा लगने लगा है और अब किसानों की तौल का मामला गरमा गया है जिसको लेकर किसानों ने राज्यपाल को ज्ञापन भी सौंपा है ।
जानकारी के अनुसार फतेहपुर जनपद के किशनपुर क्रय केंद्र पर किसानों के गेहूं की तौल ना हो पाने के कारण किसान लगातार नाराज हैं ज्ञात हो कि सरकार द्वारा मंगलवार को क्रय केंद्र पर खरीद का समय समाप्त कर दिया गया जिसके बाद किसानों का सैकड़ों कुंटल गेहूं तौल के लिए क्रय केंद्रों पर पड़ा रहा और किसानों की तौल नहीं हो वही कुछ-कुछ किसान तो निराश होकर अपना गेहूं लेकर घर वापस चले आए लेकिन कुछ किसान है कि मानने को तैयार नहीं है जिसको लेकर बुधवार की सुबह कुछ किसान तौल के लिए फिर क्रय केंद्र पर इकट्ठा हो गए लेकिन समय समाप्त होने के बाद किसानों की तौल नहीं हो सकी जिसके बाद किसानों ने क्रय केंद्र पर हंगामा काटना शुरू कर दिया उसी दौरान कांग्रेसी नेता ओमप्रकाश गिहार भी किसानों के समर्थन में कूद गए और क्रय केंद्र के सामने बैठकर सरकार विरोधी नारे लगाते हुए सरकार की जमकर आलोचना की जिसके बाद प्रशासन मौके पर पहुंचा तो किसी प्रकार से मामले को ठंडा करवाया गया लेकिन बृहस्पतिवार की सुबह एक बार किसान फिर केंद्र परिसर में पहुंचकर लामबंद हो गए जिसके बाद किशनपुर क्रय केंद्र पर हंगामा शुरू हो गया और कांग्रेस के नेता ओमप्रकाश गिहार भी मौके पर पहुंचे जिसके बाद घंटों हंगामा होता रहा कांग्रेसी नेता ओमप्रकाश गिहार किसानों के समर्थन में आकर धरने पर बैठ गए जिसके बाद क्रय केंद्र पर राजस्व के कई कर्मचारी मौके पर पहुंचे जहां नाराज किसानों ने किशनपुर क्रय केंद्र के प्रभारी व कर्मचारियों पर मिलीभगत का आरोप लगाया और कानूनगो के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन भी सौंपा ज्ञात हो कि किशनपुर क्रय केंद्र पर तौल न किए जाने से नाराज किसानों ने दिए गए ज्ञापन पर केंद्र प्रभारी एवं कर्मचारियों पर लापरवाही एवं व्यापारियों की मिलीभगत का आरोप लगाया दिए गए ज्ञापन पर किसानों ने कहा कि जिन किसानों का पंजीकरण 22 जून के पहले टोकन दिए गए परंतु किसानों की गेहूं की तौल नहीं की गई और केंद्र प्रभारी राजेंद्र कुमार व कर्मचारियों के द्वारा व्यापारियों एवं बिचौलियों का ही गेहूं तौला गया और किसान आज भी दर दर भटक रहे हैं और तमाम किसानों का गेहूं भीगकर खराब हो गया जिसकी पूर्ण जिम्मेदारी केंद्र प्रभारी की है वही किसानों ने कहा कि बार-बार किसानों को क्रय केंद्र बुलाया गया लेकिन तौल नहीं की गई और किसानों की गेहूं लदी ट्रैक्टर-ट्राली आज भी क्रय केंद्र पर खड़ी है जिस पर किसानों ने दिए गए ज्ञापन पर मांग किया कि जिन किसानों को टोकन जारी किया गया व जिनकी गेहूं लदी ट्रैक्टर-ट्राली क्रय केंद्र के अंदर खड़ी है उनकी तौल कराई जाए और खरीद की तिथि बढ़ाई जाए व किशनपुर क्रय केंद्र पर व्याप्त भ्रष्टाचार की जांच कराई जाए ।
इस मौके पर विपक्ष के कांग्रेसी नेता ओमप्रकाश गिहार सहित करीब सैकड़ों की तादात में किसान मौजूद रहे ।