FATEHPUR- एनजीटी के नियमों का नहीं हो रहा पालन, खदान संचालक कर रहे नियमों की अनदेखी

एनजीटी के नियमों का नहीं हो रहा पालन, खदान संचालक कर रहे नियमों की अनदेखी

यूपी फाइट टाइम्स
ठा. अनीष सिंह

असोथर/फतेहपुर एनजीटी संस्था एक, लेकिन नियम अलग-अलग। नियमों में भी काफी शिथिलता। इसका फायदा घाट संचालक उठा रहे हैं। दरअसल, एनजीटी के नियमानुसार सूर्यास्त के बाद खनन पर रोक लगी हुई है। जबकि इसके उल्टा कार्य करते हैं घाट संचालक रात्रि में ही बड़ी मात्रा में बड़ी बूम वाली मशीनों से करते हैं खनन इस ओर खनन विभाग व परिवहन विभाग के अधिकारियों की मौन स्वीकृति है इस पर बड़ा सवाल ?
केंद्र व राज्य सरकारों द्वारा नदियों से मोरंग खनन के लिए एन जी टी के नियमों के मुताबिक पट्टा आवंटन किया जाता है और अगर पट्टा धारक द्वारा एन जी टी के नियमों के मुताबिक खनन न करने पर पट्टा आवंटन निरस्त व भारी जुर्माना लगाया जाता है लेकिन असोथर थाना क्षेत्र के रामनगर कौहन खंड एक में 31 दिसंबर 2020 से बालू खनन महादेव मार्ग से निकल रहे हैं खनन विभाग की सयुंक्त टीम ने एक सप्ताह पूर्व मारा था छापा जिसमे कस्बे से सर्वोदय इंटर कॉलेज तक ही गए थे जिसमे एक ओवरलोड ट्रक को सीज करके कार्यवाही की इतिश्री कर ली शायद सर्वोदय इंटर कॉलेज से 100 मीटर घाट की तरफ आगे जाते तो शायद दर्जनों ओवर लोड ट्रक रोड किनारे खड़े मिलते जिसको घाट संचालको ने गाड़ियों को रोक कर रखे थे।।