You are currently viewing FATEHPUR- ग्राहक सेवा केंद्र से पीएम आवास के लाभार्थी का अंगूठा लगवा कर प्रधान ने निकाला रुपया

ग्राहक सेवा केंद्र से पीएम आवास के लाभार्थी का अंगूठा लगवा कर प्रधान ने निकाला रुपया

यूपी फाइट टाइम्स
महेश कुमार

असोथर/फतेहपुर आज 8 सितंबर
विकास खंड असोथर की सुसुवन बुजुर्ग ग्राम सभा में प्रधानमंत्री आवास के लाभार्थी से गांव के ग्राहक सेवा केंद्र में दो बार अंगूठा लगवाकर बीस हजार रुपए ग्राम प्रधान ने ले लिया जिसके बाद लाभार्थी ने कहा कि बचे बीस हजार रुपए में मै ईंट,बालू, सीमेंट,आदि सामग्री कैसे ला पाऊंगा इसी लिए मैंने आवास ही नहीं बनवाया जब तक सरकार द्वारा भेजी गयी पहली किस्त का 40 हजार मुझे नहीं मिलता मैं आवास नहीं बनवाऊंगा गांव पहुंची आज टीम को पीड़ित लाभार्थी ने उक्त बातें बताई और कहा कि हमारी शिकायत आप अपने अखबार के माध्यम से जिले के आलाधिकारियों तक पहुंचाए।
बताते चलें कि केन्द्र सरकार व उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा साढे चार साल के कार्यकाल में उत्तर प्रदेश के गरीबों को 40 लाख प्रधानमंत्री आवास शहरी व ग्रामीण देकर एक ऐतिहासिक कार्य किया है लेकिन असोथर विकास खंड के अधिकारियों की उदासीनता के चलते इस महत्वपूर्ण योजना को भी ग्राम प्रधानों ने एक बड़ा कमाई का जरिया बना लिया है प्रत्येक लाभार्थी से 20 से 25 हजार रुपए आवास दिलाने के एवज में अवैध रूप से वसूल रहे हैं जब कि केन्द्र की मोदी सरकार व प्रदेश की योगी सरकार ने सख्त निर्देश दिए कि पीएम आवास व मुख्यमंत्री आवास में किसी भी अधिकारी व बिचौलियों को एक रुपए भी मत दीजिए इसी लिए लाभार्थी के खाते में सभी किस्तों का पूरा पैसा भेजा जाता है कि कोई भी अधिकारी कर्मचारी जनप्रतिनिधि व बिचौलियों आवास दिलाने के नाम पर पैसा न ऐंठ ले लेकिन असोथर विकास खंड की कई ग्राम पंचायतों में ग्राम प्रधानों द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों से यह कहकर पैसा लिया जा रहा कि अगर आप पैसा नहीं दोगे तो आपकी दूसरी किस्त हम रोकवा देंगे जिसके डर से लाभार्थी प्रधान को मुहमांगा पैसा दे देता है इससे यही साबित होता है कि सरकार चाहे जितना सख्त निर्देश जारी करे लेकिन ब्लाक स्तर से लेकर जिले के आलाधिकारियों की उदासीनता के चलते सरकार की महत्वाकांक्षी पीएम आवास व मुख्यमंत्री आवास योजना भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ रही हैं।
इस संबंध खंड विकास अधिकारी प्रवीणानंद ने बताया कि आपके द्वारा पीएम आवास के लाभार्थियों से प्रधान की वसूली की बात संज्ञान में आई है इसकी जांच कराकर कार्रवाई करवाई जायेगी।
ग्राम प्रधान ब्रजेश कुमार ने बताया कि ऐसा मामला हमारे संज्ञान में
नहीं है।