You are currently viewing FATEHPUR- देश की आजादी का गवाह रहा पक्का तालाब बदहाली पर बहा रहा आंसूं – प्रवीण पाण्डेय

देश की आजादी का गवाह रहा पक्का तालाब बदहाली पर बहा रहा आंसूं – प्रवीण पाण्डेय

पक्का तालाब किनारे 2100 दीप जलाकर शुरू किया जागरूकता अभियान

यूपी फाइट टाइम्स
ओमनरायण विश्वकर्मा

खागा ( फतेहपुर ): प्रथक बुन्देलखण्ड राज्य निर्माण के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को 17 बार खून से खत लिखने वाले बुंदेलखंड राष्ट्र समिति के केन्द्रीय अध्यक्ष प्रवीण पाण्डेय के आह्वान पर शुक्रवार शाम समिति कार्यकर्ताओं, व्यापार मंडल पदाधिकारियों, पर्यावरण प्रेमियों, गणमान्य नागरिकों ने पक्का तालाब किनारे 2100 दीप जलाकर प्राचीन धरोहर को संरक्षित किए जाने की मांग की।

समिति के केंद्रीय अध्यक्ष प्रवीण पांडेय ने कहा कि तालाब का निर्माण मिर्जापुर जिले के रहने वाले एक व्यापारी घराने ने कराया था। जिस दौर में तालाब का निर्माण हुआ था, इसके चारों ओर आबादी नहीं थी। तालाब कि आस-पास खाली पड़ी जमीन पर कब्जा हो चुका है। धीरे-धीरे करके तालाब के ऊपर तक मकान बनते आ रहे हैं। यदि जल्द ही इसे संरक्षित नहीं किया गया तो नगर की पहचान अस्तित्व खो देगी। व्यापार मंडल अध्यक्ष शिवचंद्र शुक्ल ने कहा कि देश की आजादी का गवाह रहे पक्का तालाब की बदहाली के पीछे स्थानीय प्रशासन पूरी तरह से बेपरवाह बना है। चार साल पहले तत्कालीन एसडीएम अमित भट्ट द्वारा नगर पंचायत के साथ मिलकर संरक्षण की दिशा में थोड़ा-बहुत प्रयास किया गया। एसडीएम का तबादला होने के बाद किसी दूसरे अधिकारी ने इसकी सुधि नहीं ली। आबादी के अंदर बने तालाब के इतिहास को देखते हुए लोगों ने इसे हर हाल में संरक्षित करने की मांग की। दीपदान के दौरान पक्का तालाब किनारे मौजूद पर्यावरण प्रेमियों ने संकल्प लिया कि जब तक तालाब के संरक्षण की दिशा में कोई सकारात्मक पहल नहीं होती है, आंदोलन जारी रहेगा। केंद्रीय अध्यक्ष प्रवीण पाण्डेय के अलावा देव व्रत त्रिपाठी, शिवचंद्र शुक्ला, ज्ञानेंद्र सिंह, अतुल साहू, स्वर्णिम कौशल, रितेश मोदनवाल, कौटिल्य केसरवानी, बेटू पंडित, राहुल, गोविंद, आकाश, शिवम सोनी, शुभम आदि लोग रहे।