FATEHPUR- प्रधानमंत्री आवास योजना में जमकर हो रही धांधली लाभार्थियों को नहीं मिल पा रहे आवास सूंची से लाभार्थियों के नाम गायब

*प्रधानमंत्री आवास योजना में जमकर हो रही धांधली लाभार्थियों को नहीं मिल पा रहे आवास सूंची से लाभार्थियों के नाम गायब*यूपी फाइट टाइम्सदेवमई फतेहपुर// जनपद में देवमई विकास खण्ड के अकबराबाद ग्राम पंचायत में प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को सरकार की योजना का लाभ नहीं मिल पाया आवास योजना में जमकर धांधली होती दिखाई दे रही है वहीं ग्राम पंचायत के प्रधान ने बताया कि सूंची में लाभार्थियों के नाम दिया गया था लेकिन अब लाभार्थियों के नाम कैसे काट मालूम नहीं सोचने वाली बात यह है कि अगर प्रधान ने सूंची में लाभार्थियों का नाम दिया है तो आखिर नाम गायब कैसे हुआ आखिर जिम्मेदार कौन है जबकि सिकेटरी ने कई बार गांव का सर्वे निरीक्षण किया वहीं कृष्णा पुर अकबराबाद के राजेश बाल्मीकि की पत्नी ने बताया कि प्रधान जी ने मेरा नाम लिस्ट में भर लिया था और मेरा घर कच्चा है बारिश में कभी भी गिरने की आशंका हैं लेकिन लाभार्थी को सिर्फ आश्वासन दिया जाता था और अब लिस्ट से नाम हटा दिया गया है जो पूरी तरह से आवास की पात्रता में है उन्होंने बताया कि मेरा घर आलाधिकारी देख सकते हैं अगर पात्रता के लायक नहीं हैं तो मुझे आवास न दें वहीं स्वर्गीय रामकरण बाल्मिकी के पुत्र ने आरोप लगाते हुए बताया कि मेरे आवास का पैसा आया था जिसमें 10 हजार निकाले और वैसे ही गांव के एक दलाल ने पैसे लेकर कहा कि तुम्हारा आवास बनवा देंगे और उससे पैसे ले लिया वहीं कुम्हारनपुर की भगलिया ने बताया कि मेरा नाम आवास लिस्ट में था सर्वे हुआ फिर भी था लेकिन लास्ट में आवास आने के समय नाम लिस्ट से हटा दिया गया आखिर ऐसा क्यों होता है हालांकि जब इस सम्बन्ध में विकास खण्ड अधिकारी देवमई से बात की गई तो उन्होंने बताया कि टीम गठित कर के जांच कराई जाएगी आखिर सरकार के जिम्मेदार अधिकारी कब जांच कराएंगे क्या आवास योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को योजना का लाभ मिलेगा या नहीं क्या जांच हो पाएगी अब तो आगे सोचने वाली बात होगी सरकार गरीबों को योजना का लाभ उठाने का डंका बजाती है लेकिन कुछ ऐसे लोगों की वजह से गरीब व्यक्तियों को सरकार की योजना का लाभ नहीं मिल पाता कर्मचारी एक जगह बैठकर अपने मिलने वाले से पूरे गांव का नाम पूछ लेते हैं अब आप ही बताइए कि एक आदमी का पूरा गांव प्रेमी तो नहीं अब यह जांच का विषय है